मध्यप्रदेशराज्य

भोपाल में बीते आठ दिन में सामने आये 336 नए केस, हर दिन लिए जा रहे सैंपल

राज्य में कोरोना का संक्रमण अब 51 जिलों में पहुंच चुका है

भोपाल: मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक राज्य में कोरोना के कुल 192 नए केस आए हैं, जिससे राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या 7493 हो गई है। वहीं राज्य में कोरोना का संक्रमण अब 51 जिलों में पहुंच चुका है।

भोपाल में बीते आठ दिन में 336 नए केस सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग का अनुमान है कि संक्रमण की रफ्तार यही रही तो 31 मई तक कुल मरीज 1600, जबकि 30 जून तक बढ़कर 6350 हो जाएंगे।

विभाग अब नए केस की इसी रफ्तार को आधार मानते हुए जून-जुलाई की तैयारियों में जुट गया है। शहर के अस्पतालों में 10 हजार से ज्यादा बेड, एक हजार आईसीयू बेड, 1500 ऑक्सीजन बेड रिजर्व कर लिए गए हैं। ऑक्सीजन बेड की संख्या 2700 तक बढ़ाई जा सकती है।

कॉन्टैक्ट हिस्ट्री के आधार पर यदि ज्यादा से ज्यादा लोगों को क्वारेंटाइन करना पड़ा तो शहर के सभी गेस्ट हाउस, 100 से ज्यादा मैरिज गार्डन में व्यवस्था की जाएगी। भौरी इंस्टीट्यूशन एरिया, जंबूरी मैदान में अस्थाई क्वारेंटाइन सेंटर बनाने की भी तैयारी है। सरकारी स्कूलों को भी आइसोलेशन के लिए तैयार करने की योजना है।

प्रदेश में कोरोना अब 51 जिलों में फैल गया है। सिर्फ निवाड़ी संक्रमण से बचा है। गुरुवार को कटनी जिले में एक 9 साल की बच्ची संक्रमित मिली। अब 10 या उससे अधिक संक्रमित मरीज 30 जिलों में हैं।

250 से ज्यादा नर्सिंग होम चिह्नित

हमीदिया, एम्स, आरकेडीएफ, पीपुल्स, महावीर, एलएन मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, 250 से ज्यादा नर्सिंग होम्स, एलएन मेडिकल कॉलेज एवं जेके अस्पताल, सभी निजी अस्पताल को आइसोलेशन एवं आईसीयू के बेड आरक्षित रखने के निर्देश हैं। एडवांस मेडिकल कॉलेज, रेलवे अस्पताल, मैनिट के हॉस्टल में मरीजों के संपर्क में आए लोगों और कोविड अस्पतालों में पॉजिटिव मरीजों को रखा जाएगा।

प्रदेश में 23 दिन में डबल हो रहे केस, रिकवरी रेट 54.3%

प्रदेश में कोरोना के मामले अब 23 दिन में डबल हो रहे हैं। जबकि देश में हर 16वें दिन। कोरोना समीक्षा के दौरान अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में रिकवरी रेट भी 54.3% हो गया है। देश में यह 42.8% है। हर दिन 6 हजार सैंपल जांचे जा रहे हैं।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बताया कि प्रदेश के 1557 फीवर क्लीनिक्स को आदर्श क्लीनिक बनाया जाएगा। यहां कोई भी व्यक्ति अपनी स्वास्थ्य जांच करवा सकेगा।

Tags
Back to top button