उत्तर प्रदेश के आगरा में एक दिन में ही कोरोना वायरस के आये 39 नए मामले

उत्तर प्रदेश में आगरा बना कोविड-19 का नया एपिकसेंटर

आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 142 हो गई है. आगरा में सोमवार को पुष्टि किए गए 39 पॉजिटिव मामलों में से 14 मामले फतेहपुर सीकरी के एक पर्यटक गाइड के सीधे संपर्क में आए लोगों के हैं, जिसकी 10 अप्रैल को मथुरा में टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी.

इसके बाद इस शहर को उत्तर प्रदेश में कोविड-19 के नए एपिकसेंटर के तौर पर देखा जा रहा है. 5 मामले एक निजी अस्पताल के कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों से संबंधित हैं. जबकि 5 अन्य मामले एक निजी क्लिनिक के रोगियों के परिवार के सदस्यों से संबंधित हैं जहां एक डॉक्टर की रिपोर्ट पिछले सप्ताह पॉजिटिव आई थी.

बाकी लोग अन्य कोरोना पॉजिटिव लोगों के संपर्क वाले हैं, जिनमें से कई दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात कार्यक्रम में शामिल हुए थे. जिले के नए रोगियों में एक जूनियर डॉक्टर भी है जो एसएन मेडिकल कॉलेज (एसएनएमसी) के आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी पर था.

रोगियों की बढ़ती संख्या के बीच स्थानीय प्रशासन ने पड़ोसी जिलों में 20 रोगियों को स्थानांतरित कर दिया है. पड़ोसी जिले कासगंज में पहली बार कोरोनो वायरस संक्रमण का मामला सामने आया है. यहां एक साथ तीन निवासियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. वहीं फिरोजाबाद में 2 ताजा मामलों के साथ कुल मामलों की संख्या 18 हो गई है.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी मुकेश कुमार वत्स के अनुसार, जिन क्षेत्रों में ये नए मरीज रहते थे, उन्हें सील कर दिया गया है और बाकी निवासियों की जांच की जा रही है. उन्होंने कहा, “यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक जूनियर डॉक्टर में कोविड-19 मिला है. हम आइसोलेशन वार्ड में सेवाएं दे रहे सभी डॉक्टरों और पैरामेडिक स्टाफ के नमूने भेजेंगे जांच के लिए भेजेंगे.”

Tags
Back to top button