प्रदेश में 2000 बिस्तरों की सुविधा वाली 4 और नए कोविड सेंटर खुलने की तैयारी में

कोरोना सेंटर में 24 घंटे डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ रहेंगे तैनात

रायपुर: प्रदेश में कोरोना महामारी के प्रकोप को देखते हुए प्रशासन 2000 बिस्तरों की सुविधा वाली 4 और नए कोविड सेंटर खुलने की तैयारी में लगा हुआ है। निगम प्रशासन हिदायतुल्ला विश्वविद्यालय, प्रयास विद्यालय सड्डू, प्रयास विद्यालय गुढिय़ारी और राधा स्वामी सत्संग व्यास को कोरोना सेंटर बनाने की तैयारी कर रहा है, ताकि कोरोना मरीजों का समय पर उपचार किया जा सके।

पुलक भट्टाचार्य, अपर आयुक्त रायपुर नगर निगम के अनुसार कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए कोरोना सेंटर बनाकर दो हजार बिस्तरों की व्यवस्था करने का निर्णय लिया गया है। राधा स्वामी सत्संग व्यास और तीन अन्य जगहों पर दो से तीन दिन के अंदर कोरोना सेंटर बनाया जाएगा।

ज्ञात हो कि प्रदेश में सर्वाधिक कोरोना संक्रमित राजधानी रायपुर में मिल रहे हैं। यहां आयुर्वेदिक अस्पताल, इनडोर स्टेडियम, माना, आंबेडकर अस्पताल और एम्स आदि में कोरोना मरीजों के लिए लगभग दो हजार बिस्तर की व्यवस्था है।

रायपुर में अब तक 13 हजार से अधिक कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। मरीजों की संख्या बढऩे से अस्पतालों में बेड कम पडऩे लगे हैं। जिस तेजी से कोरोना संक्रमण फैल रहा है उसे लेकर शासन-प्रशासन चिंतित है।

आगामी चुनौती का सामना करने के लिए चिकित्सा व्यवस्था को पहले से दुरुस्त रखने की कवायद चल रही है। निगम प्रशासन हिदायतुल्ला विश्वविद्यालय में 300 बिस्तर, प्रयास विद्यालय सड्डू में 300, प्रयास विद्यालय गुढिय़ारी में 300 और राधा स्वामी सत्संग व्यास में एक हजार बिस्तर की व्यवस्था करने की योजना पर काम कर रहा है। कलेक्टर ने गुरुवार को राधा स्वामी सत्संग व्यास का निरीक्षण किया। दो दिन के अंदर यहां कोरोना सेंटर खोल दिया जाएगा।

24 घंटे तैनात रहेंगे डॉक्टर :

कोरोना सेंटर में 24 घंटे डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ तैनात रहेंगे। नगर निगम रायपुर ने अपने विशेष दस्ते को कोरोना सेंटर बनाने की जिम्मेदारी दे दी है। जिला स्तर के कई अधिकारी समय-समय पर सेंटर का निरीक्षण करेंगे।

कोरोना सेंटर में रहेगा खेल का भी इंतजाम :

नगर निगम के अपर आयुक्त पुलक भट्टाचार्य ने बताया कि कोरोना सेंटर में लूडो, कैरम आदि खेल का इंतजाम किया जाएगा। वहां कार्यरत अधिकारियों-कर्मचारियों, मरीजों के खाने-पीने की व्यवस्था नगर निगम करेगा।

सभी मरीजों को सुरक्षा किट दी जाएगी। किट में हैंड सैनिटाइजर, फेस शिल्ड मास्क, साबुन, ब्रश, टूथ पेस्ट, बोतल बंद पानी आदि होंगे। नगर निगम का अमला हॉस्पिटल में तैनात रहेगा जो समय-समय पर पीपीई किट पहनकर परिसर सहित हॉस्पिटल के अंदर सैनिटाइजेशन और साफ-सफाई का काम संभालेगा।

सेलून खोलने का समय बदला

कलेक्टर ने नया आदेश जारी कर सेलून दुकानों का समय घटा दिया है। पहले सेलून दुकानें सुबह 11 से शाम 7 बजे तक खुल रही थी, लेकिन अब नए आदेश के तहत यह दुकानें सुबह 8 से शाम 4 बजे तक ही खुल सकेंगी। सेलून दुकानें मंगलवार को पूरी तरह से बंद रहेंगी।

मृतक के भाई ने नहीं दिया सैंपल :

पहाड़ी तालाब तिरंगा चौक के पास कुशालपुर में रहनेवाले एक व्यक्ति का 3 सितंबर को निधन हो गया। तब यह आशंका जताई गई कि मृत्यु कोरोना से हो सकती है, इसलिए सैंपल जरूरी है। लेकिन मृतक के भाई और परिजन ने सैंपल देने का विरोध किया, इसलिए टीम को लौटना पड़ा।

परिवारवालों ने मोहल्ले के अन्य लोगों के साथ अंतिम संस्कार कर दिया। लेकिन इसके बाद मृतक के भाई की तबियत बिगड़ी तो सैंपल लिया गया। जांच में वे कोरोना पाजिटिव निकले। इस वजह से प्रशासन ने मृतक का सैंपल नहीं देने और पॉजीटिव होने के बावजूद अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए भाई के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत एफआईआर करवा दी है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button