मतगणना के लिए चुनाव आयोग को अहमद पटेल ने दिए 4 सुझाव

टीएस सिंहदेव ने दिया समर्थन

रायपुर।

ईवीएम की सुरक्षा और स्ट्रांगरूम की सुरक्षा के बाद अब प्रदेश कांग्रेस ने मतगणना में भी गड़बड़ी का अंदेशा जताया है। और चुनाव आयोग से मतगणना के समय विशेष सर्तकता बरतने का अनुरोध किया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने चुनाव आयोग को सुझाव दिए हैं जिसका प्रदेश कांग्रेस के नेता टीएस सिंहदेव ने समर्थन किया है।

कांग्रेस के मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में स्ट्रांग रूम और ईवीएम के साथ छेड़छाड़ के प्रयासों की चुनाव आयोग से शिकायत के बाद अहमद पटेल ने एक बयान जारी कर यह सुझाव दिए। पटेल ने छत्तीसगढ़ के लिए यह विशेष सुझाव देते हुए कहा कि मतगणना के समय ईवीएम को स्ट्रांग रूम से मतगणना केंद्रों तक ले जाने के दौरान सभी पार्टियों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी सुनिश्चित की जाए।

दूसरा सुझाव है कि डाक-मतपत्र वैध वोटर का ही है, इसकी दोबारा पुष्टि कर ली जाए। पटेल ने कहा है कि इसके अलावा आयोग को राजनांदगांव, कोंडागांव और बिलासपुर जिले के शीर्ष अधिकारियों के आचरण की गंभीर समीक्षा करनी चाहिए।

चौथे सुझाव में उन्होंने कहा कि एक राउंड की काउंटिंग पूरी होने के बाद ही दूसरे राउंड की गणना शुरू की जानी चाहिए। पटेल ने उम्मीद जताई है कि चुनाव आयोग उनके सुझावों पर पूरी तरह अमल करेगा।

अहमद के इन सुझावों का टीएस सिंहदेव ने समर्थन किया है। सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा है कि मैं अहमद पटेल जी के सुझावों का समर्थन करता हूं। ऐसे में जबकि ईवीएम से छेड़छाड़ की खबरें आ रही हैं, लोगों का भरोसा कायम रखने के लिए ये पहल जरूरी है।

Back to top button