4 साल, देश बदहाल : संजीव अग्रवाल

मोदी सरकार के जश्न पर जोगी कांग्रेस का वार

रायपुर। 4 साल देश बदहाल यह कहना है जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) पार्टी के मीडिया समन्वयक व प्रवक्ता संजीव अग्रवाल का। संजीव ने कहा कि, सन 2016 में कांग्रेस से अलग होकर छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने एक नई पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) की स्थापना की। इस पार्टी का निर्माण छत्तीसगढ़ के विकास और छत्तीसगढ़ की जनता के हितों की रक्षा करने के लिए किया गया है। अजीत जोगी ने अपने 3 साल के कार्यकाल में मुख्यमंत्री रहते हुए नव-निर्मित छत्तीसगढ़ में बहुत विकास किया और सही मायने में देखा जाए तो छत्तीसगढ़ के विकास की नीव को जोगी ने ही रखा था इसीलिए हमारे पार्टी का मुख्य उद्देश्य छत्तीसगढ़ का विकास है ।

अग्रवाल ने कहा कि एक तरफ भारतीय जनता पार्टी है, जिसने पिछले साढ़े 14 सालों में छत्तीसगढ़ को सिर्फ लूटने और बर्बाद करने का काम किया है, वही स्थिति केंद्र की भी है। केंद्र में सत्ता पर काबिज हुए भारतीय जनता पार्टी को 4 साल पूरे हो चुके हैं लेकिन इन 4 सालों में भारतीय जनता पार्टी ने अपने द्वारा किए गए एक भी वादों को पूरा नहीं किया और देश की स्थिति बद से बदतर हो गई। भारतीय जनता पार्टी को एन केन प्रकारेण केवल सत्ता से मतलब है लेकिन देश की जनता और देश की भलाई के लिए उनकी इच्छा शक्ति सवालों के घेरे में है क्योंकि उन्हीं की पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए वादों को चुनावी जुमला कहकर संबोधित किया था।

केंद्र की ही तरह छत्तीसगढ़ में भी साढे 14 साल से भारतीय जनता पार्टी कि डॉ रमन सिंह की सरकार सत्ता पर काबिज है बावजूद इसके उन्होंने छत्तीसगढ़ का कोई विकास नहीं किया है आज छत्तीसगढ़ में आए दिन हमारे जवान शहीद हो रहे हैं और नक्सलवाद पर सरकार बिल्कुल भी संवेदनशील नहीं है, मोदी जी ने ढाई करोड़ रोजगार प्रति वर्ष देने का वादा किया था लेकिन ऐसा नहीं हुआ, आज हमारे किसान भाई आत्महत्या करने को मजबूर हैं,

उन्हें उनकी फसल का सही समर्थन मूल्य भी प्राप्त नहीं हो पा रहा है, भारतीय जनता पार्टी ने अपने हर वर्ष के चुनावी घोषणापत्र में कहा है कि हम किसानों को उनकी फसलों का उचित समर्थन मूल्य देंगे तथा उनके करों को माफ कर उन्हें 5 साल का बोनस भी देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ, सरकार ने शिक्षा कर्मी हमारे गुरुजनों के संविलियन करने का आश्वासन दिया था लेकिन वह लोग आज आंदोलन करने को मजबूर हैं और इस आंदोलन में न जाने कितनी ही जाने जा चुकी हैं, उसी तरह स्वास्थ्य का जो स्तर छत्तीसगढ़ में है मुझे नहीं लगता कि इतना निम्न स्तर देश के किसी भी प्रदेश में होगा, यहां आए दिन मरीजों की जान जा रही है.

जिसका कारण डॉक्टर्स की लापरवाही और प्रशासन का गैर जिÞम्मेदाराना रवैया है, उसी प्रकार संसाधनों की कमी से लोग मारे जा रहे हैं। आज छत्तीसगढ़ में सरकार, लोगों को पीने का साफ पानी भी मुहैया नहीं करा पा रही है और रमन सिंह कहते हैं कि यहां चारों ओर विकास हो रहा है, जनता के पैसे से वह चुनावी विकास यात्रा निकाल रहे हैं और कहते हैं कि चौतरफा विकास हो रहा है। उसी प्रकार अगर हम शिक्षा की बात करें तो शिक्षा का स्तर भी छत्तीसगढ़ में बहुत ही दयनीय है, छत्तीसगढ़ के हमारे छात्र 12वीं के बाद दूसरे राज्यों में जाकर पढ़ने को मजबूर हैं और सरकार कह रही है कि हम चौतरफा विकास कर रहे हैं, सरकार ने प्रदेश में तकरीबन 1700 से अधिक केरोसिन हॉकरों के परिवारों को बेरोजगार कर दिया, उन्होंने कई बार आंदोलन किया लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हुई कइयों ने अपनी जाने भी गवाही हैं, <>


लेकिन आज तक उन सरकार इस मसले पर सजग दिखाई नहीं पड़ रही है भारतीय जनता पार्टी की मोदी सरकार और छत्तीसगढ़ में डॉ रमन सिंह के सरकार केवल और केवल झूठ की बुनियाद पर टिकी हुई है और जनता को ठगने का काम कर रही है। भारतीय जनता पार्टी केंद्र के अपने 4 साल के कार्यकाल और छत्तीसगढ़ के अपने साढ़े 14 साल के कार्यकाल में पूरी तरह से विफल रही है और जनता आने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव में इनको पूरी तरह से सबक सिखाने के लिए तैयार.

advt
Back to top button