छत्तीसगढ़

बस्तर का प्राकृतिक सौन्दर्य देखने पहुंचे 40 एनआरआई

जगदलपुर । भारत सरकार के विदेश मंत्रालय की ओर से एक कार्यक्रम के तहत 10 अक्टूबर को विदेश में रहने वाले भारतीय मूल के 40 युवा बस्तर पहुंचे। भारतीय मूल के विदेशों में रहने वाले युवाओं के लिए भारत की संस्कृति और कला को जानने का मौका विदेश मंत्रालय देता है। कार्यक्रम के तहत 18 से 30 वर्ष की आयु सीमा के एनआरआई युवक- युवतियों ने बस्तर का भ्रमण किया। सभी ने बस्तर के सौंदर्य को करीब से देखा। यह कार्यक्रम भारत की संस्कृति, कला और विकास कार्यों के बारे में परिचय कराता है।

कार्यक्रम के अंतर्गत इजराइल, दक्षिण अफ्रीका, फिजी, वेस्टइंडीज, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया और मलेशिया इत्यादि देशों के 40 युवक और युवतियां 3 दिवसीय बस्तर भ्रमण पर जगदलपुर पहुंचे। बस्तर क्षेत्र की प्राकृतिक सौन्दर्यता, आदिवासी संस्कृति, विकास गतिविधि की जानकारी हासिल किए। साथ ही बस्तर में तैनात सुरक्षाबलों के काम करने की तरीकों को नजदीक से जानने पुलिस कोऑर्डिनेशन परिसर पहुंचकर वरिष्ठ अधिकारियों से रूबरू हुए।

दल के सदस्यों को उप पुलिस महानिरीक्षक दक्षिण बस्तर क्षेत्र रेंज सुंदरराज पी ने बस्तर में स्थानीय पुलिस बल और केंद्रीय अर्धसैनिक पुलिस बल की ओर से क्षेत्र की सुरक्षा और विकास के लिए किए जा रहे प्रयासों से अवगत कराया। इस दौरान विदेश मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी सुशील प्रसाद, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लखन पटले और पुलिस बल व छत्तीसगढ़ पर्यटन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। भ्रमण में आए दल के सदस्य आगामी 2 दिनों में बस्तर क्षेत्र की विभिन्न पर्यटन स्थल, शिक्षा केन्द्र हाटबाजार और अन्य जगहों का भ्रमण करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.