छत्तीसगढ़/ पिछड़ी बैगा जनजाति को 44 क्विंटल खाद्यान्न सामग्री वितरित

पंडरिया विकासखण्ड के 22 वनांचल ग्राम पंचायत है, जहां बैगा जनजाति की बहुलता है।

रायपुर: कोरोना वायरस के नियंत्रण और रोकथाम के लिए जारी लॉकडाउन की इस संकट की घड़ी में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पहल पर जिला प्रशासन कबीरधाम द्वारा जिले के आदिवासी बैगा बाहूल पंडरिया विकासखण्ड के पहाड़ी और सुदूर वनांचलों में रहने वाले बैगा परिवारों को 45 क्विंटल चावल और अन्य आवश्यक समाग्री का वितरण कराया गया है।

पंडरिया विकासखण्ड के 22 वनांचल ग्राम पंचायत है

संकट की इस घड़ी में जरूरतमंद लोगों को उनके घरों तक पहुंचकर राशन और अन्य आवश्यक समाग्री दी जा रही है। कबीरधाम जिले के पंडरिया और बोडला विकाससखण्ड के वनांचलांे में विशेष पिछड़ी बैगा जनजाति निवासरत है। पंडरिया विकासखण्ड के 22 वनांचल ग्राम पंचायत है, जहां बैगा जनजाति की बहुलता है।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों को राशन और अन्य आवश्यक समाग्री उपलब्ध कराने के लिए जिले में राशन बैंक खोला गया है। इसके अलावा जिले के नगरीय निकायों में डोनेशन ऑल व्हील के माध्यम से जरूरमंद लोगों के लिए राशन समाग्री भी समाजसेवी संगठन, नागरिकों और व्यापरिक संगठनों द्वारा प्रदान किया गया है। जिले में राशन बैंक में पर्याप्त मात्रा में चावल और अन्य आवश्यक समाग्री उपलब्ध हो रही है।

Tags
Back to top button