छत्तीसगढ़

भाजपा और बजरंग दल से जुड़े एक कार्यकर्ता की हत्या, 6 आरोपी गिरफ्तार

एडिशनल एसपी निवेदिता पाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी

बलौदाबाजार: भाजपा और बजरंग दल से जुड़े एक कार्यकर्ता को देर रात सड़क पर कुछ युवकों ने घेरा और चाकुओं से कई वार कर दिए। युवक को अधमरा कर आरोपी भाग निकले। घायल युवक ने रात में ही दम तोड़ दिया। अब इस मामले में पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

बता दें युवक भक्ति यादव वार्ड नंबर 17 से पार्षद पद की दावेदारी कर चुका था। रविवार की सुबह भाजपा और बरजंग दल के कार्यकर्ताओं ने हंगामा कर दिया। गार्डन चौक के पास चक्का जाम कर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन किया गया।

इस पूरी घटना के बाद पुलिस हत्या के आरोपियों की तलाश में लग गई थी, जिसके बाद रविवार को इन छह आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों के नाम राजा खान, जावेद खान, राहुल देवार, सूरज वैष्णव, शाहरुख खान और इकबाल खान है।

रविवार की दोपहर यह खबर आई कि पुलिस ने हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एडिशनल एसपी निवेदिता पाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि टीम ने आरोपियों को पकड़ लिया है। सभी आरोपी बलौदा बाजार के ही रहने वाले हैं। इनमें इकबाल खान, शाहरुख खान, जावेद रजा, राहुल देवार, रजा, सूरज वैष्णव, शामिल हैं।

फोन करके मिलने के लिए बुलाया

इन युवकों के साथ कुछ समय पहले भक्ति यादव ने मारपीट की थी। इसी घटना का बदला लेने के लिए युवकों ने मिलकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के आरोपियों को पकड़ने के बाद पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया की सबसे पहले सूरज वैष्णव नाम के युवक ने मृतक भक्ति यादव को फोन करके मिलने के लिए बुलाया। उसके बाद वहां योजनाबद्ध तरीके से बाकी के 5 आरोपी मौजूद थे।

जिसके बाद भक्ति यादव के वहां पहुंचने के तुरंत बाद शाहरुख ने चाकू से भक्ति यादव पर ताबड़तोड़ वार शुरू कर दिए। पुलिस के मुताबिक इस दौरान शाहरूख ने भक्ति यादव के पूरे शरीर में 15 से ज्यादा बार किए, जिसके बाद भक्ति यादव की मौत हो गई।

वहीं हत्या करने के बाद दो युवक रायपुर की ओर भाग रहे थे, जिन्हें पलारी से गिरफ्तार किया गया और बाकी चार आरोपियों को बलौदाबाजार के अलग-अलग जगह से गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इस घटना के सारे एंगल की जांच की जा रही है और भविष्य में इन छह आरोपियों के अलावा अगर और कोई व्यक्ति इस घटना में शामिल पाया जाएगा, तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button