लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का लोगों को 6 करोड़ का बड़ा तोहफा

न्यूनतम पेंशन बढ़ाने पर विचार कर सकती है सरकार

नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनाव 2019 के पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार देश भर के लोगों को 6 करोड़ का बड़ा तोहफा देने जा रही है। केंद्र की मोदी सरकार आज बुधवार को सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी की बैठक होनी है।

इस बैठक में सरकार न्यूनतम पेंशन बढ़ाने पर विचार कर सकती है। उम्मीद है कि सरकार न्यूनतम पेंशन को बढ़ाकर दोगुनी कर सकती है। अगर ऐसा होता है कि ईपीएफओ के पेंशन स्कीम के करीब 50 लाख सब्सक्राइबर्स को इसका लाभ मिलेगा।

सीबीटी की बैठक से पहले FIAC क बैठक

PF खाताधारकों के लिए अच्छी खबर इतना ही नहीं सीबीटी की बैठक से पहले FIAC क बैठक होनी है, जिसमें साफ हो जाएगा कि PF पर ब्याज दर कितनी रहेगी। इसमें बदलाव की उम्मीद बहुत कम है और इसे मौजूदा दर 8.55% पर बनाए रखा जा सकता है।

अगर ऐसा होता है कि 6 करोड़ पीएफ अंशधारकों को इसका लाभ होगा। उम्मीद है कि मोदी सरकार कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के वित्त वर्ष 2018-19 के लिए प्रॉविडेंट फंड (PF) पर ब्याज दर में इजाफा कर सकती है। 21 फरवरी को होने वाली सीबीटी की बैठक में पीएफ पर ब्याज दर को बरकरार रखने या बढ़ाने का प्रस्‍ताव आ सकता है।

कितना है पीएफ पर मौजूदा ब्याज दर आपको बता दें कि मौजूदा वक्त में सरकार 8.55 फीसदी ब्याज दर से पीएफ पर ब्याज दे रही है। हालांकि इसकी उम्मीद बेहद कम है कि इसे बढ़ाया जा सकता है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इसे मौजूदा दर पर ही बनाए रखा जाएगा। गौरतलब है कि श्रम मंत्रालय की अगुवाई में सीबीटी की बैठक होनी है।

यह बॉडी ही पीएफ पर ब्याज दर की सिफारिश करती है। अगर सीबीटी की सिफारिश पर मुहर लगती है तो लगभग 6 करोड़ पीएफ अकाउंट होल्डर्स को फायदा मिलेगा। आपको बता दें कि इस वक्त 8.55 प्रतिशत की दर से ब्याज दर मिल रहा है। इससे पहले 2016-17 में 8.65 फीसदी और 2015-16 में 8.8 फीसदी का ब्याज मिल रहा था।

Back to top button