फेसबुक पर दोस्ती कर 60 करोड़ की ठगी, 5 लोग गिरफ्तार

आरोपियों के पास से 3.31 लाख रुपये की रकम बरामद हुई है

फेसबुक पर दोस्ती कर 60 करोड़ की ठगी, 5 लोग गिरफ्तार

विजयनगर पुलिस और क्राइम ब्रांच ने शनिवार को फेसबुक पर दोस्ती कर विदेशी गिफ्ट देने के बहाने 100 लोगों से करीब 60 करोड़ की ठगी करने वाले चार नाईजीरियन और नागालैंड निवासी महिला को गिरफ्तार किया है।

आरोपियों के पास से 3.31 लाख रुपये की रकम बरामद हुई है। पुलिस का कहना है कि आरोपी बिजनेस वीजा पर दिल्ली के मालवीय नगर में रह रहे थे और ठगी के धंधे में जुटे थे।
सीओ फर्स्ट मनीषा सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों में जेनली जूल्स, अरनॉड जैगो, एलेक्स शिवोय और दाओ अलहसन निवासी नाईजेरिया हैं, जबकि इस गैंग में नागालैंड निवासी एक महिला नाओमी भी हैं, जिसे पुलिस ने दबोचा है।

नाओमी जेनली की गर्लफ्रेंड है। सीओ ने बताया कि आरोपियों ने 24 दिसंबर को क्रासिंग रिपब्लिक निवासी ज्योति धमिजा से फेसबुक पर दोस्ती कर उसकी बेटी को इटली से गिफ्ट भेजने के नाम पर करीब साढ़े 10 लाख रुपये की ठगी की थी। इसके बाद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश की और उन्हें सर्विलांस के माध्यम से ट्रेस किया, जिसमें उनकी लोकेशन एबीईएस कालेज के पास मिली और पुलिस ने छापामारी कर पांचों को दबोच लिया।

पूछताछ में बताया कि वह अब तक 100 से अधिक वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर 3.31 लाख रुपये कैश, दो लैपटॉप, ज्वेलरी, 13 मोबाइल और एक लग्जरी कार बरामद किया है।

सीओ ने बताया कि चारों नाइजीरियन गैंग फेसबुक पर पहले दोस्ती करता था। इसके बाद विदेशी गिफ्ट भेजकर लोगों को अपने विश्वास ले लेने का काम करता था। आरोपी नाओमी पुरुषों को अपने प्रेम जाल में भी फंसाती थी। चैट में लोगों से उनके नंबर लेकर कस्टम अधिकारी बनकर इंटरनेट से कॉल को विदेश के जरिए डायवर्ट कर कॉल करते थे।

गिफ्ट के साथ विदेश करेंसी भेजने और जेल भेजने की बात बताकर ब्लैकमेल कर रकम वसूलते थे। इसके साथ ही गिफ्ट पाने पर कस्टम ड्यूटी भी मांगते थे। लोगों को छोड़ने के नाम पर अपने अकाउंट में रकम जमा कराते थे।

गैंग के मास्टर माइंड एलेक्स ने बताया कि वह ठगी के रुपयों को दिल्ली-एनसीआर में ड्रग्स का कारोबार करते थे। कॉलेजों के विद्यार्थी उनके टारगेट थे, जिन्हें ड्रग्स बेची जाती थी। पुलिस को संदेह है कि चारों आरोपी शनिवार को विजयनगर स्थित एबीईएस कालेज के छात्रों को ड्रग्स की सप्लाई करने आए थे।

advt
Back to top button