65 सीटें लाकर फर्स्ट डिवीजन में पास होंगे : चुनावी मोड में दिखे डॉ. रमन

कहा-2018 का चुनाव फाइनल परीक्षा, ट्विटर और फेसबुक से राजनीति नहीं चलती

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह शनिवार को लोक सुराज के समापन अवसर पर आम जनता से मिले फीडबैक के बाद पूरी तरह से चुनावी मोड पर दिखे। उन्होंने कहा कि 2018 का चुनाव फाइनल परीक्षा है, मैंने 2003, 2008 और 2013 में परीक्षा पास की है। सीएम ने कहा कि 49 में सेकंड क्लास होता है. 65 में फर्स्ट क्लास होता है. कोशिश फर्स्ट क्लास आने की होगी। बता दें पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 49 सीट जीत कर तीसरी बार प्रदेश में सरकार बनाई थी, इसबार भाजपा अध्यक्ष ने विधानसभा चुनाव के 65+ का लक्ष्य दिया है। जिसे मिशन 65 का नाम दिया गया है।

पुनिया पर निशाना : लोकसुराज अभियान राजनीतिक दल का विषय नहीं

कांग्रेस पर निशान साधते हुए मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा कि लोकसुराज अभियान किसी राजनीतिक दल का विषय नहीं है. छत्तीसगढ़ की जनता का अभियान था। कई जगहों पर खुद कांग्रेस के नेता सुराज अभियान में शामिल हुए हैं। कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के मंच साझा नहीं करने की नसीहत को लेकर रमन ने कहा कि मंच साझा नहीं करने का मतलब खुद को विकास से अलग करने जैसा है। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि सुराज आने का ये मतलब नहीं है कि राम राज्य आ जाए. जैसे जैसे विकास होता जाएगा वैसे वैसे उत्सुकता बढ़ेगी. मांग आएगी. यह सकारात्मक संकेत है।

एंटी इनकंबेंसी को किया खारिज

मुख्यमंत्री ने एंटी इनकंबेंसी के मसले पर कहा कि ये फेसबुक और ट्विटर पर दिख रहा है। उन्होंने कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए कहा कि ये उस दुनिया में जी रहे हैं, जहां मीडिया में प्रेस कॉन्फ्रेंस होती है। मैं चाहता हूं यही चलता रहे और हम काम करते रहे। ट्विटर और फेसबुक से राजनीति नहीं चलती। रमन सिंह ने कहा कि जब आचार संहिता घोषित होगी तब तक कि हमने योजना बना रखी है।

advt
Back to top button