राष्ट्रीय

महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू से 698 की मौत

महाराष्ट्र: महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू बेकाबू होता जा रहा है. सूबे में स्वाइन फ्लू के अब तक 8840 मामले सामने आये हैं, जबकि सरकारी अांकड़ों पर नजर डालें तो अक्टूबर महीने तक स्वाइन फ्लू से 698 लोगों की मौत हो चुकी है.राज्य में बढ़ते वायरल ने महाराष्ट्र सरकार के भी हाथ पांव फुला दिए हैं. स्वास्थ्य मंत्री दीपक सावंत ने बताया कि स्वाइन फ्लू से लड़ने के लिए सरकार की ओर से हर संभव मदद दी जा रही है.

स्वाइन फ्लू का सबसे ज्यादा असर ग्रामीण इलाको में है. सरकार की ओर से आदेश जारी कर सभी अस्तपालों को सूचित किया गया है कि अगर किसी मरीज को दो दिनों से ज्यादा बुखार हो तो उससे टैमीफ्लू की दवा का डोज दिया जाये.

महाराष्ट्र में स्वाइन फ्लू का बड़ा असर पुणे मंडल में भी देखने को मिल रहा है. जहां अब तक 3863 मामले दर्ज किये जा चुके हैं जबकि 216 लोगो की मौत हो चुकी है.
राज्य में दूसरे नंबर पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का अपना इलाका यानी नागपुर सर्कल है, यहां 109 लोग स्वाइन फ्लू का शिकार हो चुके हैं.
पिछले साल से बढ़ा है आंकड़ा

साल 2016 में स्वाइन फ्लू के 82 मामले सामने आये थे, जिसमे 25 लोगों की मौत हुई थी. H1N1 इन्फ्ल्युएंजा वायरस पिछले साल की तुलना में इस साल ज्यादा कहर बरपा रहा है. वैसे तो आमतौर पर स्वाइन फ्लू वायरस मॉनसून के सीजन में देखने को मिलता है, लेकिन इस साल तापमान में उतार-चढ़ाव ने वायरस को विकसित करने के लिए सही माहौल दिया है. डॉक्टरों का कहना है कि न्यूनतम और अधिकतम तापमान में बड़ा अंतर वायरस को पनपने के लिए माहौल उपलब्ध कराता है.

अगस्त के महीने में जब आमिर खान, किरण राव समेत कुछ और बॉलीवुड हस्तियों ने खुद को स्वाइन फ्लू की चपेट में बताया था तो उनके फैन इस खबर से काफी परेशान हो गए थे.

Summary
Review Date
Reviewed Item
स्वाइन फ्लू
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.