छत्तीसगढ़बड़ी खबर

फरसिया में NSS का 7 दिवसीय शिविर प्रारंभ

ग्राम फरसिया में राष्ट्रीय सेवा योजना का 7 दिवसीय शिविर प्रारंभ।।

राजशेखर नायर
फरसिया:
शासकीय सुखराम नागे महाविद्यालय नगरी (छिपली) के राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के 7 दिवसीय शिविर ग्राम फरसिया में सुरु हुआ,कार्यक्रम के मुख्यातिथि मति द्रौपती ध्रुव सरपंच ग्राम पंचायत फरसिया, अध्यक्षता शिवदयाल साहू अध्यक्ष ग्राम समिति फरसिया,महाविद्यालय प्राचार्य डॉ अमिताभ बैनर्जी, विशिष्ट अतिथि,पन्ना लाल सिंह उपसरपंच ग्राम फरसिया, कृष्ण कुमार साहू,माधुरी लाल कश्यप,

चन्द्रिका प्रसाद साहू,कोमल कश्यप,लिलम्बर साहू,कमला प्रजापति, रुद्र नारायण सिंह,बी एस ध्रव,सी आर चनाब, आदि उपस्थित थे,कार्यक्रम के प्राम्भ में कार्यक्रम के अध्यक्षता कर रहे शिवदयाल साहू ने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई मानव को जीवन का मूल मंत्र सिखाती है, एवं सभी को समुदाय में एक साथ रहना वा भाई चारे की भावना को जागृत करती है, साथ ही चन्द्रिका प्रसाद साहू कोषाध्यक्ष फरसिया ने संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना जीवन में आने वाले कठिनाइयों से संघर्ष करने वा विषम परिस्थितियों में अपने आप को सक्षम बनाने में महत्वपूर्ण योगदान निभाती है,

साथ ही साथ उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना के इकाई शिविर में व्यक्ति की चौमुखी विकास का रास्ता खुल जाता है,ग्राम सरपंच ने रसोयो को संबोधित करते हुए कहा कि मैं समस्त महाविद्यालय के रसोयो का हृदय से आभार व्यक्त करती हूं,की आप सबने हमारे गाँव को निर्मल वा स्वछ बनाने में अपना योगदान देना चाह,साथ ही ग्राम सरपंच ने रसोयो का हौसला अफजाई किया,

कार्यक्रम के मध्य में कार्यक्रम अधिकारी प्रो,आर आर मेहरा,ने दिन चर्य व सभी गतिविधियों का पाठन किया एवं भावविभोर हो गाँव के ईस्ट देवी के चरणों मे मत्था टेका ,,अंतिम उतबोधन में महाविद्यालय प्राचार्य ने समस्त ग्राम वासियों का सहयोग देख कर भावविभोर शब्दो मे कहा कि इतने वर्षों के शिविर में हमने फरसिया जैसे ग्राम नहीं देखा जिन्होंने प्रारंभ के दिन में ही अपना तन मन धन व अमूल्य समय दिया साथ ही संस्था प्रमुख महोदय ने महाविद्यालय रसोयों को दिशा निर्देश करते हुए कहा कि आप 7 दिनों के लिए महाविद्यालय का प्रतिनिधित्व कर रही है,

एवं अपना चौमुखी विकास के साथ-साथ जीवन में अनेक कठिनाइयों से होने वाली पीड़ा से मुक्त होने का मूल मंत्र सिखाती है, इन सबमे ये 7 दिवसीय शिविर आपको आत्मनिर्भर बनाती हैं, कार्यक्रम का सफल संचालन प्रदीप जैन(बंटी) ने किया एवं अपने संचालन के अदाओं से ग्राम वासियों के हृदय में अपना स्थान बनाया साथ ही संचालन के दौरान उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की लोकगीत अब हमें जुबानी याद होना चाहिए क्योंकि राष्ट्रीय सेवा योजना का थीम नरवा,गरवा,घुरवा,बॉडी जिससे ही छत्तीसगढ़ का अस्तित्व बनता है..

Tags
Back to top button