राष्ट्रीय

दाती के खिलाफ बलात्कार और अप्राकृतिक यौन संबंध का मामला दर्ज

सीबीआई नें की पीड़िता का बयान दर्ज

नई दिल्ली:

स्वयंभू बाबा दाती महाराज के खिलाफ बलात्कार और अप्राकृतिक यौन संबंध का मामला दर्ज किया है। गौरतलब है कि इससे पहले दाती महाराज के खिलाफ अक्टूबर की शुरूआत में बलात्कार का केस दर्ज किया गया था। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने साकेत कोर्ट में आईपीसी की धारा 376, 377 के तहत चार्जशीट फाइल की थी।

गौर हो कि आश्रम में रहने वाली एक शिष्या ने दाती महाराज पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था, इस मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पीड़िता का बयान दर्ज किया था। पीड़िता का आरोप है कि आश्रम में ना सिर्फ दाती महाराज बल्कि उनके अन्य सेवकों ने भी उसके साथ बलात्कार किया।

महिला शिष्या का कहना है कि करीब दो साल पहले शनि धाम के अंदर उसका यौन शोषण किया गया। डर के कारण उसने शिकायत दर्ज नहीं कराई थी, अब उसने इस उत्पीड़न के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

पीड़िता ने बताया था कि वह करीब दो साल पहले आश्रम से भाग गई थी और लंबे समय से डिप्रेशन में थी, डिप्रेशन से उबरकर उसने अपने माता-पिता को पूरी बात बताई और उसके बाद आगे का कदम उठाया।

दाती महाराज के खिलाफ 7 जून को शिकायत दर्ज कराई गई थी और 11 जून को मामले में एक FIR दर्ज की गई थी। दाती महाराज से पुलिस ने 22 जून को भी करीब 8 घंटों तक पूछताछ की थी। उन्होंने हालांकि खुद को फंसाए जाने का दावा किया था। पुलिस को दी गई शिकायत में महिला ने दाती महाराज के छोटे भाई का भी नाम लिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़िता ने अपने बयान में कहा था कि उसे चरण सेवा के नाम पर उस रात सफेद कपड़े पहनाए गए थे। उसे एक अंधेरे गुफा जैसे कमरे में भेजा गया था। दाती महाराज ने उससे कहा था कि, ‘मैं तुम्हारा प्रभु हूं। फिर भला क्यों इधर-उधर भटकना। मैं सब वासना खत्म कर दूंगा।’

दुष्कर्म करने के बाद बाबा ने उससे कहा कि अब तुम्हारी पूजा पूरी हो गई है। विरोध करने पर रेप करने के बाद दाती महाराज की करीबी महिला शिष्याएं पीड़िता का माइंडवॉश करने का काम करती थीं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
दाती के खिलाफ बलात्कार और अप्राकृतिक यौन संबंध का मामला दर्ज
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt