70 दुकाने मलबे में हुए तब्दील

70 दुकाने मलबे में हुए तब्दील

रायपुर । क्रिसमस उत्सव के भाग स्वरूप, कर्तव्य, भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) रायपुर के सीएसआर क्लब ने एसओएस बाल ग्राम, रायपुर में एक सीक्रेट सांता कार्यक्रम किया। एसओएस एक गैर-लाभकारी संगठन है जो समुदायों और राज्यों के सहयोग से जरूरतमंद बच्चों और परिवारों की सहायता करता है। यह कार्यक्रम आईआईएम रायपुर के स्वयंसेवक विद्यार्थियों की मदद से किया गया।

गांव के 143 बच्चों ने म्यूजिक चेअर, डंब शेरेड्स, बेलून पासिंग, क्रिकेट और अन्य खेलों जैसी गतिविधियों में भाग लिया। स्वयंसेवकों ने 8 वीं और आगे की कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए करियर परामर्श भी किया। आईआईएम रायपुर के स्वयंसेवकों की टीम कार्तव्य के एसओएस ग्राम पहुंचने के साथ, कार्यक्रम 10 बजे शुरू हुआ। बच्चों के साथ प्रारंभिक बातचीत के बाद, वे वहां मौजूद सहायकों की मदद से अपनी रूचि की गतिविधियों के अनुसार समूहों में बंट गए। सीक्रेट सांता कार्यक्रम के एक हिस्से के रूप में बच्चों को उपहार और चॉकलेट बांटे गए। गतिविधियों के विजेताओं को पुरस्कार वितरित करने के बाद क्रिसमस के गाने गाए गए और बच्चों ने सांता क्लॉज के साथ नृत्य में भाग लिया।

गतिविधियों के अंत में, बच्चों को टीम कर्तव्य की ओर से एसओएस ग्राम को भेंट किए गए खेल खिलौनों के साथ खेलने के लिए छोड़ दिया गया जबकि कक्षा 8 वीं और आगे वाले बच्चे कैरियर काउंसिलिंग पर एक सत्र के लिए रुक गए। इसके साथ इस कार्यक्रम को समाप्त किया गया। आईआईएम रायपुर के विद्यार्थियों की ओर से इस सत्र का उद्देश्य, अन्य गतिविधियों के अलावा, बच्चों को कुछ ज्ञान वर्धन करना और उनका मार्गदर्शन करना था।

advt
Back to top button