70 साल के अध्यापक ने 19 साल की शिष्या को दे बैठा दिल, हुए फरार

तमिलनाडु के रामेश्वरम में गिरफ्तार कर गुरुवार को हुए गिरफ्तार

अबोहर। कुछ साल पहले बिहार के प्रोफेसर मटुकनाथ व उसकी शिष्या जूली की लव स्टोरी मीडिया में सुर्खियां बनी थी।

ऐसा ही मामला अबोहर में भी चर्चा का विषय बना हुआ है। 70 साल के रिटायर्ड अध्यापक जयकिशन गौड़ का दिल अपनी 19 वर्षीय शिष्या पर आ गया।

दोनों करीब दस दिन पहले घर से फरार हो गए थे, लेकिन पुलिस ने इन्हें तमिलनाडु के रामेश्वरम में गिरफ्तार कर गुरुवार को अबोहर की अदालत में पेश किया।

अदालत ने आरोपित को 14 दिन के लिए जेल भेज दिया है। उसकी शिष्या भी पुलिस हिरासत में है।

बहला फुसला कर भगा ले जाने का मुकदमा दर्ज

इससे पहले पुलिस ने लड़की के परिजनों के बयानों पर जयकिशन के खिलाफ बहला फुसला कर भगा ले जाने का मुकदमा दर्ज किया था।

गुरुवार को अदालत के बाहर लड़की का ताऊ और चचेरा भाई भी बैठे हुए थे, लेकिन लड़की ने उन्हें भी अनदेखा कर दिया।

उसके ताऊ ने बताया कि वह लड़की को समझाने के लिए बुधवार को भी थाने गए थे, लेकिन ऐसा लगता है कि रिटायर्ड अध्यापक ने पूरी तरह उसे अपने प्रभाव में लिया हुआ है।

हरकतों के लिए बाजार में पीटा था सरेआम

जयकिशन को सरकारी नौकरी से रिटायर्ड हुए करीब 12 साल हो गए हैं। इसके बाद बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने लगा। चार साल पहले उसने छात्रा को उसके घर पर ही ट्यूशन देना शुरू किया।

उस समय लड़की की उम्र करीब 15 साल थी। बताया जाता है कि तब से ही जयकिशन ने उसे अपने प्रेमजाल में फंसा लिया।

उसकी हरकतों के लिए जयकिशन गौड़ को शिष्या के परिजनों ने करीब एक साल पहले सरेआम बाजार में पीटा भी था।

तब उसने अपनी हरकतों से बाज आने का वादा किया था। बावजूद इसके दोनों में प्रेम संपर्क लगातार बना रहा और जैसे ही छात्रा बालिग हुई तो वह उसे लेकर फरार हो गया।

हर तरफ गुरु-शिष्या की प्रेम कहानी के चर्चे

जब से गुरु शिष्या दोनों घर से फरार हुए हैं, तब से ही दोनों की प्रेम कहानी शहर की हर गली में चर्चा का विषय बनी है।

लोग हैरान हैं कि 19 वर्षीय लड़की कैसे एक 70 साल के व्यक्ति के साथ घर छोड़कर जा सकती है। लड़की अपनी माता-पिता की इकलौती संतान है।

जयप्रकाश की पत्नी का देहांत हो चुका है। उसके बच्चों की शादी हो चुकी है और पोते-पोतियां हैं।

Back to top button