70 साल की महिला ने किया दावा, वैक्सीन लगाने के बाद आई आंखों की रोशनी

दस साल पहले उनकी आंखों में मोतियाबिंद हो गया था

वाशिम:महाराष्ट्र के वाशिम में एक 70 साल की महिला ने दावा किया कि वैक्सीन लगाने के बाद आंखों की रोशनी आ गई है. 70 साल की मथुरााई बिडवई पिछले 9 सालों से देख नहीं पाती थीं. दस साल पहले उनकी आंखों में मोतियाबिंद हो गया था. इससे उनके आंखों की पुतलियां सफेद पड़ गईं. धीरे-धीरे दोनों आंखों से उन्हें दिखना बंद हो गया. मथुराबाई का मूल गांव जालना जिले के परतूर में है. 9 साल पहले इनके जीवन में बिलकुल अंधेरा छा गया.

दूर हुआ अंधकार, वैक्सीन लेते ही घटा चमत्कार

पति नहीं होने की वजह से इनके रिश्तेदार इन्हें रिसोड ले आए. इस बीच 26 जून को इस महिला ने पास ही स्थित समता फाउंडेशन द्वारा शुरू किए गए वैक्सीनेशन सेंटर में जाकर कोविशील्ड का पहला डोज लिया. इसके बाद इस महिला को अचानक दोनों आंखों से दिखना शुरू हो गया. पिछले 9 सालों से जिन्हें बिलकुल दिखाई नहीं दे रहा हो, उन्हें अचानक दिखाई देने लगे, तो जाहिर सी बात है कि लोगों को बेहद आश्चर्य हुआ.

मथुराबाई बताती हैं कि वैक्सीन लेने के दूसरे दिन ही इनकी एक आंख में 30 से 40 प्रतिशत तक रौशनी आ गई. पहले मथुराबाई वैक्सीन लेने के लिए तैयार नहीं थी. रिश्तेदारों की जिद की वजह से इन्होंने वैक्सीन ली. और फिर वैक्सीन लेते ही चमत्कार हो गया.

जीवन में आई रौशनी, वजह वैक्सीन हो या कुछ और

डॉक्टरों ने वैक्सीन लेने से इस तरह के चमत्कार होने से इंकार किया है. विशेषज्ञों का कहना है फिलहाल कुछ कहना जल्दबाजी होगी. इसका गहराई से अध्ययन के बाद ही पक्के तौर पर कहा जा सकता है कि वैक्सीन का कोई असर आंखों की रौशनी बढ़ाने में पड़ता है कि नहीं. फिलहाल तो मथुराबाई के जीवन में रौशनी आ गई है. अब वो वैक्सीन की वजह से आई है या किसी और वजह से, यह शोध का विषय है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button