इजराइल के साथ 77.7 करोड़ डॉलर का रक्षा समझौता, भारत को देगा बराक-8 मिसाइलें

यरूशलम।

इजराइल की सरकार संचालित एक अग्रणी रक्षा कंपनी ने बुधवार को कहा कि उसने भारतीय नौसेना को सतह से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की बराक-8 मिसाइलों तथा मिसाइल रक्षा प्रणाली की आपूर्ति के लिए भारत के साथ 77.7 करोड़ डॉलर के एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। इजराइली बिजनेस अखबार ग्लोब्स की खबर के अनुसार इस्राइल एरोस्पेस इंडस्ट्रीज (आई ए आई) ने कहा कि नयी दिल्ली की भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बी ई एल) परियोजना के लिए मुख्य विनिर्माता होगी।

रिपोर्ट के मुताबिक आई ए आई भारतीय नौसेना के सात पोतों के लिए सतह से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइल (एल आर-एस ए एम) और हवाई मिसाइल रक्षा प्रणाली (एएमडी), एएमडी प्रणाली बराक-8 के समुद्री संस्करण, की आपूर्ति करेगी।

आई ए आई इजराइल की सबसे बड़ी एरोस्पेस और रक्षा कंपनी है। यह मिसाइल भेदी, हवाई प्रणालियों और खुफिया तथा साइबर सुरक्षा प्रणालियों सहित रक्षा प्रणालियों का विकास, विनिर्माण और आपूर्ति करती है। इजराइली रक्षा प्रतिष्ठान के साथ भारत के करीबी संबंध हैं और इसने इस्राइली रक्षा कंपनियों के साथ कई महत्वपूर्ण सौदे किए हैं।

आई ए आई के मुख्य कार्याधिकारी निम्रोद शेफर ने कहा, ‘भारत के साथ आई ए आई की भागीदारी वर्षों पुरानी है और इसका परिणाम संयुक्त विकास और उत्पादन के रूप में निकला है। आई ए आई के लिए भारत एक बड़ा बाजार है और हमारी योजना भारत में अपनी मौजूदगी को मजबूत रखने की है, बढ़ती प्रतिस्पर्धा के मद्देनजर भी।’

अखबार ने शेफर के हवाले से कहा कि अपनी तरफ से आई ए आई अपनी मूल क्षमता को सुरक्षित रखते हुए निरंतर अपनी कारोबारी रणनीति को नया रूप देती रहती है, जिसका बराक-8 एक उदाहरण है।

Back to top button