8.72 लाख हितग्राहियों को लगा कोविड का पहला टीका

कोविड संक्रमण की सम्भावित तीसरी लहर के पहले जिले की जनता में कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सावधानी व जागरूकता नजर आ रही है।

दुर्ग, 22 सितंबर 2021। कोविड संक्रमण की सम्भावित तीसरी लहर के पहले जिले की जनता में कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए सावधानी व जागरूकता नजर आ रही है। जिले में 22 सितंबर तक 8.72 लाख हितग्राहियों को कोविड का पहला टीका लग चुका है। इनमें से 4.14 लाख हितग्राहियों ने टीके का दूसरा डोज भी लगवा लिया है। स्वास्थ्य विभाग की सकारात्मक और प्रभावी कोशिश से कोविड टीकाकरण के प्रति लोगों का रुझान और विश्वास दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है। स्वास्थ्य विभागयुद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन के काम में लगा हुआ है।

सीएमएचओ डॉ. गम्‍भीर सिंह ठाकुर ने बताया, “कोविड-19 की रोकथाम और लोगों को इसके संक्रमण से बचाव के लिए जिले में 227 वैक्सिनेशन सेंटर्स में टीकाकरण किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा, टी‍काकरण के लक्ष्‍य को पूरा करने के लिए सेंटर्स की संख्‍या को बढाने को लेकर तैयारियां की जा रही है। अब तक बनाए गए शासकीय व निजी सेंटरों में 18 से 60 वर्ष और इससे ऊपर के लोगों को 70 फीसदी को प्रथम और 33 फीसदी को दूसरा डोज दिया गया है।

कोरोना का टीका 

अब तक 12.77 लाख हितग्राहियों ने कोरोना का टीका लगवा लिया है। डॉ. ठाकुर ने लोगों से अपील करते हुए कहाहै कि संभावित तीसरी लहर से बचने के लिए सभी लोगों को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज जरुर लगवा लेना चाहिए ताकि संक्रमण से लड़ने में शरीर को प्रतिरोधक क्षमता प्राप्त हो सके। उन्‍होंने कहा, जो लोग अब भी अफवाहों व गलत धारणा बनाकर टीकाकरण से वंचित है वह कोरोना के खिलाफ लड़ाई में शामिल होकर अपनीव अपने परिवार की सुरक्षा को सुनिश्‍चित करने की जिम्‍मेदारी निभाएं।

“प्रभारी जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.सीबीएस बंजारे ने बताया, जिले में अब तक क्रमश हेल्‍थ वर्कर 21,703, फ्रंट लाइन वर्कर 29,620, 45 प्‍लस 2.23 लाख , 60 प्‍लस 1.42 लाख और 18 प्‍लस के 8.27 लाख लोगों सहित कुल 12.44 लाख लोगों को शतप्रतिशत टीका लगाने का लक्ष्‍य रखा गया है। डॉ. बंजारे ने बताया, सोमवार को जिले में 90,000 डोज टीके उपलब्‍ध हुए थे संभावित तीसरी लहर को लेकर स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने टीकाकरण में तेजी लाते हुए सोमवार को लगभग 24,000, मंगलवार को 12,000 व बुधवार को लगभग 15,000 टी‍के लगाने में सफलता हासिल की है। अस्‍पतालों में उपलब्‍ध कोल्‍ड स्‍टोरेज में लगभग 40,000 डोज उपलब्‍ध हैं। टीके को लेकर अभी कहीं भी कोई कमी नहीं है।”

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button