क्राइमरायपुर

सरोरा में कैशियर से हुई 31 लाख की लूट के 8 आरोपी गिरफ्तार,गोवा में अय्याशी का था प्लान

रायपुर। राजधानी रायपुर के सरोरा में हुई कैशियर से 31 लाख की लूट मामले में पुलिस ने 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपी लूट की रकम से गोवा में जाकर अय्याशी करने की फिराक में थे। आरोपियों में एक आरोपी कंपनी का ही कर्मचारी है, जिसने अपने साथी के साथ मिलकर इस पूरी घटना की योजना बनाई थी। पकड़े गए आरोपियों के पास से लूट की रकम 31 लाख में से 25 लाख रूपए भी जब्त कर लिया गया है।

ऐसे दिया था प्लान को अंजाम

दरअसल 16 जनवरी, उरला थाना के सरोरा के पास सुबह 9 से 10 बजे के बीच कैशियर नित्यानंद छुरा अपनी बाइक से 31 लाख रूपए कैश लेकर सिटी आफिस फाफाडीह से उरला कूलरगढ़ी प्लांट आ रहा था। इस दौरान सरोना के पास तीन बाइक में सवार 8 लोगों ने उन्हें रोका और राड-डंडे से पिटाई कर आँखों में मिर्च पाउडर छिडककर उसके पास रखा 31 लाख से भरा बैग लूट कर लेकर फरार हो गए।

मुखबिर से मिला क्लू

घटना के बाद तत्काल पीड़ित कैशियर ने इसकी शिकायत उरला थाने में दर्ज कराई। घटना को गंभीरता से लेते हुए रायपुर आईजी आनंद छाबड़ा ने एसएसपी अजय यादव को आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए थे।

एडिशनल एसपी लखन पटले, क्राइम एडिशनल एसपी अभिषेक माहेश्वरी, उरला सीएसपी और सायबर सेल प्रभारी रमाकान्त साहू के नेतृत्व में लगभग 30 सदस्यों वाली एक विशेष टीम बनाई गई। इस बीच मुखबिर से सूचना मिली की कुछ दिनों पहले ही हेमंत साहू नाम का युवक लूट की घटना को अंजाम देने के लिए लड़के खोज रहा है।

मुखबिर से मिली इस सूचना के बाद हेमंत साहू की तलाश शुरू की गई। इधर पुलिस ने कंपनी के कई कर्मचारियों से पूछताछ शुरू की। इस बीच पूछताछ में संदेही कर्मचारी हिन्छाराम साहू पहले तो गोल मोल जवाब देकर पुलिस को गुमराह करता रहा, जब पुलिस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की तो आरोपी ज्यादा देर झूठ नहीं बोल सका और हेमन्त साहू सहित आठ लोगों के साथ मिलकर लूट करने की बात कबूल कर ली।

गोवा में एन्जॉय करने का था प्लान

पुलिस पूछताछ में कंपनी के कर्मचारी हिन्छाराम साहू ने बताया कि, उसे पता था कि कंपनी के कैशियर नित्यानंद छुरा के पास काफी मात्रा में कैश होता है और इसी कैश को लूटने के लिए उसने अपने साथी हेमंत साहू के साथ लूट की पूरी योजना बनाई। इस वारदात के लिए दोनों ने अपने ही गाँव के लोगों को शामिल किया फिर 16 जनवरी को इस वारदात को अंजाम दिया गया।

लूट की वारदात के बाद गिरोह के पांच आरोपी किराए की गाड़ी कर गोवा मौज करने के लिए जा रहे थे, जिन्हें मध्यप्रदेश पुलिस की मदद से अनुपपुर में गिरफ्तार किया गया।

पुलिस टीम को मिला 50 हजार नगदी इनाम

लूट को अंजाम देने में हिन्छाराम साहू, हेमंत साहू, टिकेन्द्र सेन, भूषण वर्मा, लिकेश पटेल, हेम कल्याण, हरीश पटेल, दोमेश साहू, भूपेंद्र पटेल शामिल थे। आईजी और एसपी द्वारा आरोपियों को पकड़ने में लगी टीम को 50 हजार नगदी पुरस्कार देने की घोषणा भी की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button