क्राइमराष्ट्रीय

8 महीने बाद खुला हत्या का राज, पति के दूध में नशे की गोली मिलाकर किया था हत्या

तांत्रिक प्रेमी को घर बुलाकर कटवाया था पति का गला

नई दिल्ली: हरियाणा के भिवानी जिले में एक सनसनीखेज घटना घटी, जिसका खुलासा 8 महीने बाद हुआ. दरअसल बीते साल दिवाली की रात भिवानी के कलिंगा गांव में 40 साल की एक महिला अपने तांत्रिक प्रेमी के साथ मिलकर अपने पति की हत्या का साजिश रची.

मंजू नाम की इस महिला ने तांत्रिक प्रेमी के कहने पर अपनी 20 साल की बेटी व 18 साल के बेटे के साथ अपने पति को दूध में मिलाकर नशे की गोलियां दे दी. उसके बाद देर रात मंजू ने अपने तांत्रिक प्रेमी को घर बुलाकर अपने पति सुधीर को रस्सियों से बांध दिया. उस समय सुधीर गोलियों की वजह से नशे में था.

पति के गुम होने की शिकायत दर्ज

मंजू व उसके प्रेमी जयबीर ने मिलकर सुधीर का गला रस्सी से दबाया जिसके बाद महिला के प्रेमी जयबीर ने सुधीर का गला चाकू के काट कर उसे मौत के घाट उतार दिया. पूरे मामले का खुलासा करते हुए डीएसपी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि बीते साल दिवाली की रात मंजू व उसके प्रेमी जयबीर ने सुधीर की हत्या कर दी थी और उसी रात सुधीर के शव को बॉलेरो गाड़ी में डाल कर महेंद्रगढ़ जिले की माधवगढ़ की पहाड़ियों में फेंक आए. सुबह आकर मंजू ने सदर थाने में अपने पति के गुम होने की शिकायत दर्ज करवा दी.

डीएसपी ने बताया कि मंजू की राजस्थान के झुंझुनू जिले के झाड़फूंक करने वाले जयबीर से फोन पर बात हुई. इसके बाद दोनों में प्रेम हुआ. इसी के चलते तांत्रिक जयबीर ने राजस्थान से आकर मंजू की ससुराल कलिंगा गांव में ही कपड़े व झाड़फूंक की दुकान कर ली. दोनों ने बीते साल दिवाली को मंजू के पति सुधीर की गला दबाकर व चाकू से गला काट कर हत्या कर दी थी.

बता दें कि हत्यारी पत्नी मंजू ने अपने तांत्रिक प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतार कर पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवा कर कोई सुध नहीं ली. काफी समय बीतने के बाद मृतक सुधीर के भाईयों व अन्य परिजनों ने एसपी से मिलकर सुधीर को तलाश करने की बार-बार मांग की तो सीआईए पुलिस ने हत्यारी पत्नी व प्रेमी को 8 महीने बाद गिरफ्तार कर लिया.

Tags
Back to top button