बिहारराज्य

9 स्कूली बच्चों की मौत: तेजस्वी बोले- नशे में धुत बीजेपी नेता ने छात्रों को रौंदा, आरोपी को बचा रहे नीतीश कुमार

तेजस्वी यादव ने कहा, "यह बहुत दुर्भाग्य है, हमें बताया कि जा रहा है कि गाड़ी बीजेपी जनरल सेक्रेटरी की है, ड्राइवर फरार है, पुलिस अबतक ड्राइवर को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। पीड़ित के रिश्तेदार कह रहे हैं कि गाड़ी में बीजेपी का बोर्ड लगा हुआ था और लोग शराब के नशे में थे।"

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में बोलेरो की चपेट में आकर 9 स्कूली बच्चों की मौत के बाद इस मुद्दे पर सियासत शुरू हो गई है। पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने इस मामले को लेकर राज्य की जेडीयू-बीजेपी सरकार पर हमला बोला है। तेजस्वी यादव ने कहा है कि सीएम और डिप्टी सीएम आरोपी को बचा रहे हैं।

घायलों से मिलने मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्ण मेमोरियल कालेज अस्पताल पहुंचे तेजस्वी ने कहा कि ये सड़क हादसा बीजेपी नेता की गाड़ी से हुई है। तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे पर कई सवाल उठाये और कहा कि शराबबंदी के बावजूद आरोपी शख्स ने दारू कैसे पी रखी थी। उन्होंने ट्वीट किया, “नशे में धुत्त बीजेपी के प्रदेश मंत्री ने निर्ममता से 9 मासूम स्कूली बच्चों को कुचल दिया।

कहाँ है नैतिकता के लंबरदार नीतीश कुमार? सुशील मोदी।” आगे उन्होंने कहा, “अबतक फ़रार उस भाजपा नेता और ड्राइवर को क्यों नहीं पकड़ा गया है? शराबबंदी के बावजूद ड्राइवर शराब कैसे पिए हुए था?

मुख्यमंत्री को मानवीय संवेदना के आधार पर पीड़ितों से मिलने जाना चाहिए। नीतीश सरकार बताए वह नादान बच्चों को मौत की नींद सुलाने वाले आरोपियों पर क्या कारवाई कर रही है?”

तेजस्वी यादव ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, “यह बहुत दुर्भाग्य है, हमें बताया कि जा रहा है कि गाड़ी बीजेपी जनरल सेक्रेटरी की है, ड्राइवर फरार है, पुलिस अबतक ड्राइवर को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। पीड़ित के रिश्तेदार कह रहे हैं कि गाड़ी में बीजेपी का बोर्ड लगा हुआ था और लोग शराब के नशे में थे।”

तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा, “मुख्यमंत्री और सुशील मोदी जी कहीं नहीं दिख रहे हैं, वे दोनों आरोपी को बचाने में लगे हैं। बता दें कि मुजफ्फरपुर जिले के मीनापुर क्षेत्र में शनिवार (23 फरवरी) को एक तेज रफ्तार अनियंत्रित बोलेरो की चपेट में आने से नौ स्कूली बच्चों की मौत हो गई, जबकि 15 से ज्यादा बच्चे घायल हो गए।

मृतकों की उम्र सात से 13 वर्ष के बीच बताई जा रही है। हादसे के बाद बोलेरो पर से चालक का नियंत्रण हट गया और वह सड़क के किनारे जाकर पलट गई।

घटना के बाद से चालक फरार बताया जा रहा है। पुलिस ने बोलेरो जब्त कर लिया है तथा उसके मालिक का पता लगाया जा रहा है। मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार ने बताया कि बोलेरो चालक ने पहले ही किसी को ठोकर मार दी थी और गाड़ी की रफ्तार तेज कर वह भाग रहा था, जिस वजह से यह दुर्घटना हुई।

उन्होंने बताया कि बोलेरो को जब्त कर लिया गया है और चालक की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे पकड़ लिया जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस हादसे में मृत प्रत्येक बच्चे के परिवार को चार-चार लाख रुपये अनुग्रह अनुदान अविलंब देने का निर्देश अधिकारियों को दिया है।

मुख्यमंत्री ने इस हादसे में घायल बच्चों के समुचित इलाज का निर्देश दिया है और कहा है कि घायल बच्चों को बेहतर चिकित्सा की आवश्यकता पड़ने पर भी राज्य सरकार सभी खर्च वहन करेगी।

Summary
Review Date
Reviewed Item
9 स्कूली बच्चों की मौत: तेजस्वी बोले- नशे में धुत बीजेपी नेता ने छात्रों को रौंदा, आरोपी को बचा रहे नीतीश कुमार
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *