छत्तीसगढ़

20 जुलाई से थम जाएंगे 90 लाख ट्रकों के चक्के

रायपुर। ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के आह्वान पर 20 जुलाई की सुबह छह बजे से 90 लाख ट्रक, ट्रेलरों के पहिए थम जाएंगे। केंद्र सरकार की दमनकारी नीति व परिवहन व्यवसाय को बर्बादी के कगार पर खड़े करने वाली नीतियों और छह सूत्री मांगों को लेकर ट्रक यूनियन ने पूरे प्रदेश में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है।

इसे सफल बनाने के लिए 13 जुलाई को सुबह 11 बजे तेलीबांधा एक होटल में प्रदेश स्तरीय बैठक होगी। इसमें ट्रांसपोर्ट यूनियन के पदाधिकारी रणनीति बनाएंगे। इसमें राज्य के छोटे-बड़े परिवहन संगठन व ट्रक यूनियन के पदाधिकारी शामिल होंगे।

प्रमुख रूप से बस्तर संभाग, दल्लीराजहरा, राजनांदगांव, दुर्ग, भिलाई, रायपुर, बलौदाबाजार, महासमुंद, बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, व सरगुजा संभाग के समस्त छोटे-बड़े परिवहन संगठन उपस्थित रहेंगे।

बैठक में ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस की ओर से पूर्व अध्यक्ष चेयरमैन कोर कमेटी मलकीत सिंग बल, अमृतलाल मैदान भी मौजूद रहेंगे। इनकी प्रमुख मांगों में डीजल की कीमत कम करने, राष्ट्रीय स्तर पर समान मूल्य निर्धारित करने और डीजल की कीमत में त्रैमासिक संशोधन शामिल हैं।

वे चाहते हैं कि पूरे देश में टोल बैरियर मुक्त हो। बीमा प्रीमियम में पारदर्शिता, इस पर जीएसटी की छूट और कांप्रेसिंग पॉलिसी के माध्यम से एजेंटों को भुगतान में अतिरिक्त कमीशन समाप्त किया जाए। ट्रांसपोर्ट व्यवसाय पर टीडीएस समाप्त हो। आयकर अधिनियम की धारा 44 एई में अनुमानित आय में कमी और तर्क संगत किया जाए। ई-वे बिल के नियमों में जरूरी संशोधन किया जाए।

Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.