स्टॉपेज पर खड़े 9वीं के छात्र को एसईसीएल की स्कूल बस ने कुचला

चिरमिरी।

स्टॉपेज पर खड़े 9वीं के छात्र को एसईसीएल की स्कूल बस ने कुचल दिया। छात्र की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर जांच शुरू की। बताया जा रहा है कि दुर्घटना के बाद ड्राइवर बस को लेकर फरार हो गया।

घटना से क्षेत्र में आक्रोश व्याप्त है। वहीं महाशक्ति ट्रांसपोर्ट के मालिक ने एसईसीएल से अनुबंधित सभी 7 बसों को शहर से बाहर भेज दिया है ताकि पकड़ी न जा सके।

कोरिया जिले के चिरमिरी बरतुंगा कॉलरी स्थित अपने नाना के घर में ओम प्रकाश पिता शंकर सिंह (14) रहता था। वह बड़ीबाजार सरस्वती शिशु मंदिर में नवमीं कक्षा में अध्ययनरत था। छात्र गुरुवार की सुबह यूनिफार्म पहनकर स्कूल जाने घर से निकला और पारसपानी स्टॉपेज पर बस के इंतजार में रोड किनारे खड़ा था।

इस दौरान करीब 8.30 एसईसीएल की अनुबंधित स्कूल बस तेज रफ्तार में आई और छात्र को रौंदते निकल गई। छात्र गंभीर अवस्था में सड़क किनारे काफी देर तक पड़ा रहा। इसी बीच स्थानीय नागरिकों की मदद से तत्काल बड़ीबाजार समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। यहां जांच पश्चात डॉक्टरों ने छात्र को मृत घोषित कर दिया।

चिरमिरी पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पंचनामा किया और पीएम कराने के लिए भेज दिया है। दुर्घटना के बाद ड्राइवर बस को लेकर शहर से गायब हो गया है। मामले में पुलिस जगह-जगह बस की तलाश कर रही है।

महाशक्ति ट्रांसपोर्ट की सात बस का अनुबंध, शहर से पूरी बसें की गायब

एसईसीएल द्वारा डीएवी व केंद्रीय विद्यालय सहित अन्य स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को वाहन सुविधा मुहैय्या कराने महाशक्ति ट्रांसपोर्ट की 7 बस का अनुबंध किया गया है। दुर्घटना के बाद गुरुवार सुबह से ट्रांसपोर्टर ने अपनी सभी अनुबंधित बसों को शहर से बाहर भेज दिया है।

इससे स्कूलों की छुट्टी होने के बाद घर जाने कोई साधन नहीं मिला। स्कूल प्रबंधनों ने बच्चों के अभिभावकों से संपर्क कर ले जाने की सलाह दी। पुलिस ने मामले में कोरिया कालरी बस मालिक के घर और उसके अन्य ठिकाने पर दबिश देकर खोजबीन शुरू कर दी है।

-बस मालिक की है जिम्मेदारी, हम कुछ नहीं कर सकते

मुझे मामले की कोई जानकारी नहीं है। अगर ऐसा हुआ है तो इसकी जिम्मेदारी बस मालिक की है।
हम इसमें क्या कर सकते हैं, अगर स्कूल प्रबंधक ने अभिभावकों को बुलाया है तो अपने बच्चे को लेने के लिए जाएंगे। अब हर बच्चे को लाने की जिम्मेदारी हमारी तो नहीं है। जिनके बच्चे हैं, वे समझें। शाम तक कुछ नहीं होता है तो देखते हैं, आगे क्या हो सकता है।

-के. सामल, मुख्य महाप्रबंधक एसईसीएल चिरमिरी

-बस मालिक व ड्राइवर की कर रहे हैं तलाश

मामले की जानकारी होने के बाद तत्काल मौके पर पहुंच कर विवेचना में लिया गया है। चूंकि बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई थी, जिसे नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। बस मालिक और चालक की खोजबीन की जा रही है। जल्द ही वे हमारे गिरफ्त में होंगे। शव का पंचनामा कर पीएम के लिए भेजा गया है।
विमलेश दुबे, थाना प्रभारी चिरमिरी

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button