अफगानिस्तान के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करेगा भारत: सुषमा

नई दिल्ली.भारत और अफगानिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ सांझा लड़ाई की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कई अहम समझौते पर हस्ताक्षर किए. अफगानिस्तान के विदेश मंत्री सलाउद्दीन रब्बानी और भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की मौजूदगी में दोनों देशों ने ‘मोटर व्हीकल एग्रीमेंट’ समेत कुल चार समझौते पर हस्ताक्षर किए. इस दौरान सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत, अफगानिस्तान के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करता रहेगा, हम दोनों देश सीमा पार आतंकवाद की चुनौतियों पर काबू पाने में एकजुट रहते हैं.

दोनों देश आतंकवाद से ग्रस्त

विदेश मंत्री ने कहा कि ईरान के साथ त्रिपक्षीय सहयोग में चाबहार बंदरगाह के विकास में तेजी लाने के लिए आने वाले हफ्तों में हम अफगानिस्तान में गेहूं की आपूर्ति शुरू करेंगे. सलाहुद्दीन रब्बानी तीन दिवसीय दौरे पर भारत आए हैं इस दौरान उन्होंने कहा कि दोनों देश आतंकवाद और हिंसक उग्रवाद से ग्रस्त हैं जो हमें और क्षेत्र की स्थिरता को खतरा देते हैं. मुझे यह स्पष्ट होना चाहिए कि भारत या किसी अन्य देश के साथ हमारी दोस्ती हमारे पड़ोस में दूसरों के साथ दुश्मनी नहीं है.

रब्बानी ने कहा कि सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता के लिए अफगानिस्तान भारत के साथ खड़ा है. भारत की मदद से अफगानिस्तान में सड़क निर्माण और अस्पतालों का निर्माण किया जा रहा है. भारत में अफगानिस्तान की पुलिस व सैन्य अधिकारियों को भी विशेष ट्रेनिंग दी जाती है.

Back to top button