राष्ट्रीय

19.99 करोड़ रुपये में नीलाम हुई गायतोंडे की एक कृति

नई दिल्ली : दिल्ली में सैफ्रनआर्ट की ‘इवनिंग सेल’ में कलाकार वी एस गायतोंडे की वर्ष 1963 की बिना शीर्षक वाली एक कृति 19.99 करोड़ रुपये में नीलाम हुई. यह कृति किसी नीलामी में बिकने वाली कलाकार की सबसे महंगी पांच कलाकृतियों में शामिल हो गयी है. इतना ही नहीं यह कलाकृति सैफ्रनआर्ट द्वारा बेची गयी अब तक की सबसे महंगी कलाकृति भी बन गयी है.
सैफ्रनआर्ट के सीईओ ह्युगो वीहे ने कहा, ‘‘इवनिंग सेल’ में यह जबर्दस्त परिणाम हासिल कर हमें बेहद खुशी हुई. आधुनिक भारतीय कलाकारों के लिये मांग लगातार बढ़ रही है और दुनियाभर से इनके लिये खरीदार और नीलामीकर्ता सामने आ रहे हैं.’’ यह नीलामी 21 सितंबर को यहां द लीला में आयोजित हुई थी, जिसमें तैयब मेहता, भूपेन खाखर और रूसी मूल के कलाकार निकोलस रोएरिच जैसे कलाकार मौजूद थे.

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.