अंतर्राष्ट्रीयराष्ट्रीय

चीन के एक फाइटर जेट को ताइवान ने मार गिराया, पायलट बुरी तरह जख्मी

चीन के किसी भी प्रकार के आक्रामक रवैये से निपटने के लिए ताइवान की नेवी और एयरफोर्स अलर्ट पर

ताइवान: चीन के एक फाइटर जेट सुकाई 35 को ताइवान ने मार गिराया. खबरों के मुताबिक, पायलट बुरी तरह जख्मी है. जानकारी मिली है कि ये फाइटर जेट साउथ चाइना सी में ताइवान के इलाके में उड़ रहा था.

चीन के किसी भी प्रकार के आक्रामक रवैये से निपटने के लिए ताइवान की नेवी और एयरफोर्स अलर्ट पर है. राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने ताइवान के सैन्य ताकत में इजाफा करने के लिए रिजर्व सैन्य बलों को और मजबूत करने के लिए कई नई घोषणाएं की हैं.जिसके तहत रिजर्व फोर्स को ताइवानी सेना के लिए मजबूत बैकअप के रूप में विकसित किया जाएगा.

ताइवान को अमेरिका के पैट्रियॉट एडवांस कैपिबिलिटी-3 मिसाइलों की बिक्री से चीन को इतनी मिर्ची लगी है कि उसकी सरकारी मीडिया बिलबिलाने लगी है. 620 मिलियन डॉलर की अनुमानित लागत वाले इस रक्षा सौदे को अमेरिका की मंजूरी मिलने के बाद सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने सीधे तौर पर ताइवान और यूएस को आग से न खेलने की चेतावनी दे डाली. इन दिनों साउथ चाइना सी में अमेरिका के दो एयरक्राफ्ट कैरियरों के युद्धाभ्यास से भी चीन चिढ़ा हुआ है.

खुद को चीन का हिस्सा नहीं मानता ताइवान

बता दें कि चीन और ताइवान के बीच विवाद काफी पुराना है. चीन ताइवान को अबतक एक ऐसी जगह की तरह देखता है जो उससे अलग हो गई है और भविष्य में उसी का हिस्सा होगी. जबकि ताइवान की बड़ी आबादी खुद को अलग देश के रूप में देखती है. चीन ने ताइवान को स्वायत्ता देने का प्रस्ताव भी दिया था, जिसे ताइवान ने ठुकरा दिया था. पिछले कुछ सालों में ताइवान खुले तौर पर चीन का विरोध कर रहा है.

हाल में यूरोपियन यूनियन ने भी ताइवान को चीन का हिस्सा नहीं मानने की बात कही. वहीं ताइवान ने भी अभी नया पासपोर्ट कवर जारी किया है. इसपर ‘रिपब्लिक ऑफ चाइना’ नहीं लिखा है. इसपर भी चीन को मिर्ची लगी है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button