रेज़र निगलने के बाद इलाज के लिए गए दिव्यांग ने तीसरी मंजिल से लगाई छलांग, मौत

पीड़ित को सिर और अन्य अंगों में गंभीर रूप से चोटें आईं

रेज़र निगलने के बाद इलाज के लिए गए दिव्यांग ने तीसरी मंजिल से लगाई छलांग, मौत

जिंदगी से हार मान चुके दिव्यांग व्यक्ति ने सूइसाइड के प्रयास में रेज़र निगलने के बाद इलाज के लिए गए अस्पताल की तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। मृतक की पहचान कडलूर निवासी 28 वर्षीय विनोद के रूप में हुई।
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

पुलिस के अनुसार, पुड्डुचेरी के जवाहरलाल इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्टग्रैजुएट मेडिकल एजुकेशन ऐंड रिसर्च (जीआईपीएमईआर) में विनोद न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर का इलाज करा रहे थे। सोमवार सुबह कडलूर स्थित अपने घर में आत्महत्या के प्रयास में रेजर निगलने के बाद उन्हें जीआईपीएमईआर लाया गया जहां उनकी हालत देखकर डॉक्टरों ने सर्जिकल डिपार्टमेंट में रिफर कर दिया।

पीड़ित का एक संबंधी उस वॉर्ड तक ले जाने लगे तभी रास्ते में विनोद ने अपना हाथ छुड़ाकर इमारत की तीसरी मंजिल से छलांग लगा दी। पीड़ित को सिर और अन्य अंगों में गंभीर रूप से चोटें आईं। अस्पताल के स्टाफ और अन्य लोगों ने पीड़ित को बचाया और भर्ती कराया लेकिन कुछ ही देर में उनकी मौत हो गई। फिलहाल आत्महत्या की वजह साफ नहीं हो पाई है। डी नगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कर जांच शुरू हो गई है।

1
Back to top button