PM के आने से कुछ घंटे पहले BHU की छात्राओं ने किया हंगामा, विरोध में छात्रा ने मुंडवाया सिर

पीएम मोदी 2 दिवसीय दौरे पर शुक्रवार वाराणसी आ रहे है। लेकिन उनके आने के कुछ देर पहले ही बीएचयू में गर्ल्स स्टूडेंट ने हंगामा शुरू कर दिया है। हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रही लड़कियों का आरोप है कि छेड़खानी की शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

बता दें लड़कियों का आरोप है कि गुरुवार की रात बीएचयू कैंपस में भारत कला भवन के पास ऑर्ट्स फैकेल्टी की छात्रा के साथ तीन लड़कों ने उसके साथ छेड़खानी की । शोर मचाने पर भी 20 मीटर दूर खड़े सुरक्षा गार्ड्स ने कोई मदद नहीं की। पीड़ित लड़की ने हॉस्टल आकर वार्डेन से शिकायत की। इसके साथ ही उसने चीफ प्रॉक्टर को भी उसकी सूचना दी।

वहीं पीएम नरेन्द्र मोदी के शहर में आने से चंद घंटे पहले छेड़खानी से नाराज छात्राओं ने हास्टल से निकल बीएचयू गेट के सामने चक्काजाम कर जमकर हंगामा शुरु कर दिया। इतना ही नहीं छे़ड़खानी से आजीज आ कर एक छात्रा ने अपना सर ही मूंडवा दिया। छात्राओं के प्रदर्शन से जिला प्रशासन में हड़कम्प मचा हुआ है धरना स्थल पर भारी फोर्स को तैनात कर दिया गया है।

छात्राओं ने आरोप लगाया कि उनके साथ कैम्पस में लगातार छेड़खानी होती है और प्राक्टोरियल बोर्ड के सामने ही छात्र छेड़खानी करते है उसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती है। कुछ छात्राओं ने आरोप लगाया कि प्राक्टोरियल बोर्ड के लोग भी छेड़खानी में सामिल रहते है इस वजह से कोई कार्रवाई नहीं होती है।

प्रोटेस्ट कर रही रश्मि ने बताया कि हॉस्टल की खिड़कियों पर लड़के पत्थर में लेटर लिखकर फेंकते है। खिड़कियों पर खड़ा होने पर लड़कियों को अश्लील इशारे करते हैं। विरोध करने पर कहते है, कैंपस में दौड़ाकर कपड़े फाड़ देंगे।

छात्राओं ने बताया कि उनके साथ हास्टल के गेट पर क्लास में हर जगह आए दिन छेड़खानी होती है। कल शाम को भी त्रिवेणी हास्टल के बाहर कुछ छात्राओं के साथ छेड़खानी हुई तो छात्राओं ने चीफ प्राक्टर प्रो.ओएन सिंह को फोन बताया तो कार्रवाई के बजाय उल्टा छात्राओं को ही वे भला बुरा कहने लगे है और कहा कि छ बजे के बाद हास्टल के बाहर क्यों घूम रही थी।

फिलहाल अभी छात्रायें कार्रवाई की मांग को लेेेेकर धरने पर बैठी हुई और प्रशासन इस मामले पर कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

Back to top button