राजधानी के करीब पहुंचा दर्जन भर हाथियों का दल

रायपुर।

जिले के आरंग विकासखंड के चपरिद गांव में नदी के किनारे दर्जन भर हाथियों का झुंड विचरण कर रहा है। ये राजधानी से महज 40 किलोमीटर दूर है। हाथियों का पूरा दल नदी के किनारे वाले इलाकों में लगी फसलों को चौपट कर रहे हैं। इसके कारण आसपास के गांवों में आतंक का माहौल व्याप्त है। तो वहीं ग्रामीणों का मानना है कि अक्सर हाथियों का दल अब इस गांव में आने लगा है। इससे पहले भी आरंग में हाथियों का दल आया था जिसको बाद में वन विभाग के अधिकारियों ने रात को महासमुंद की ओर खदेड़ा था।

जानकारी के मुताबिक हाथियों के बार-बार गांवों की ओर आने के पीछे कारण ये है कि इंसान लगातार उनके साम्राज्य में घुसता चला जा रहा है। जहां से उनका आना-जाना सदियों से होता आ रहा है। वहां कभी हाईवे बनाकर तो कभी खेत बनाकर उनकी जगह पार कब्जा कर लिया। ऐसे में अब हाथियों को आने-जाने और अपने भोजन का जुगाड़ करने के लिए तकलीफ होने लगी।

लिहाजा अब उनके दल उस ओर का रुख करने लगे जहां इंसानों ने उनकी जमीन हथिया ली है। तो दूसरी ओर सुगंधित धान और महुए की शराब के हाथी बेहद शौकीन माने जाते हैं। ऐसे में जब भी जंगल में किसी भी गांव में महुए की शराब रखी होती है तो ये बड़ी ही आसानी से उसकी गंध सूंघ लेते हैं। इसके बाद रात को उस घर पर धावा बोलकर उसे हासिल कर लेते हैं।

1
Back to top button