क्राइमछत्तीसगढ़

नशे के सौदागरों के साथ-साथ क्रिकेट सट्टे के बड़े खिलाडियों की धरपकड़ शुरू, क्रिकेट सट्टा से जुड़ा बड़ा खाईवाल गिरफ्तार

पुलिस ने इस काले कारोबार से जुडे खाईवाल चितरंजन प्रसाद नेगी उर्फ बाबा नेगी को गिरफ्तार किया है।

रायपुर। सट्टे के काले कारोबार के खिलाफ मुहिम रंग ला रही है। अब पुलिस ने नशे के सौदागरों के साथ-साथ क्रिकेट सट्टे के बड़े खिलाडियों की धरपकड़ शुरू कर दी है। एक्शन मोड में आई पुलिस ने प्रदेश के क्रिकेट सट्टे से जुड़े एक बड़े खाईवाल को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से 01 नग लैपटॉप, 05 नग मोबाईल फोन समेत करोड़ों रुपये की सट्टा-पट्टी का हिसाब की कॉपी जब्त की है। पुलिस ने इस काले कारोबार से जुडे खाईवाल चितरंजन प्रसाद नेगी उर्फ बाबा नेगी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार खाईवाल बाबा नेगी इतना शातिर है कि पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए अपने नाम के दो मोबाइल नंबर मुंबई में एक्टीवेट कर बंद करवाये थे और 2 मोबाइल कोंडागांव में अपने गुर्गो से चलवा रहा था लेकिन पुलिस को मुखबिर से सुचना मिली की किसी दूसरे के नाम से जारी नंबर से रायपुर में ही रहकर आईपीएल सट्टा खिलवा रहा है। जिस सूचना के आधार पर सायबर सेल की टीम ने बीती रात श्रीराम नगर फेस-2 गली नंबर 2 स्थित उसके घर पर दबिश दी जहां आरोपी मुम्बई इंडियन्स बनाम कोलकाता नाईट राइडर्स मैच के दौरान क्रिकेट सट्टा खिलाते हुए गिरफ्तार किया।

मिली जानकारी के मुताबिक शातिर आरोपी के पास से मिले लेपटॉप में शहर के कई ऐसे लोगों के नाम मिले हैं जो सफेदपोश होकर इस कारोबार से जुड़ें हैं फिलहाल पुलिस ने अभी उन नामों का खुलासा नहीं किया है लेकिन उनको नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए बुलाने की बात जरूर कर रही है। गौरतलब है कि पिछले दिनों यूथ कॉग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुबोध हरितवाल ने डीजीपी से मिलकर ड्रग के कारोबार से और क्रिकेट सट्टे से जुडे कई बड़े नामों की सूची सौंपी थी जिसके आधार पर पुलिस ने अब क्रिकेट सट्टे से जुड़े लोगों के खिलाफ धरपकड़ अभियान शुरू कर दिया है लेकिन बताया जा रहा है कि शहर के कई बडे खाईवाल शहर से बाहर जा चुके हैं, जिनके लिए पुलिस की कई टीमें उनकी गिरफ्तारी के लिए तैयार की जा रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button