लालू यादव ने लिखी AIIMS निदेशक को चिट्ठी, कहा मुझे कुछ हुआ तो इसके जिम्मेदार आप सब होंगे

एम्स अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हैं वही चारा घोटाला में जेल की सजा काट रहे , मगर उन्हें अस्पताल से हटाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है.

लालू यादव इन दिनों स्वास्थ्य संबंधी परेशानी की वजह से दिल्ली के एम्स अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हैं वही चारा घोटाला में जेल की सजा काट रहे , मगर उन्हें अस्पताल से हटाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. इस प्रक्रिया से नाराज लालू प्रसाद ने अस्पताल प्रशासन को एक चिट्ठी लिखी है और उसमें उन्होंने अभी अस्पताल से छुट्टी ने दिये जाने की प्रार्थना की है. पढ़ें लालू प्रसाद यादव की पूरी चिट्ठी…

सेवा में,
श्रीमान निदेशक,
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान
नई दिल्ली

महोदय,

मुझे बताया गया है कि मुझे अस्पताल से छुट्टी करने की कार्रवाई हो रही है. मुझे रांची मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान दिल्ली में अच्छे इलाज के लिए भेजा गया था. अभी भी मेरी तबीयत ठीक नहीं हुई है. मैं आपको अवगत कराना चाहता हूं कि मैं हृदयरोग, किडनी इंफेक्शन, सुगर एवं कई अन्य प्रकार के बीमारियों से ग्रसित हूं. कमर में दर्द है एवं बार-बार चक्कर आ जा रहा है. मैं कई बार बाथरूम में भी गिर भी गया हूं. मेरा रक्तचाप एवं शुगर बीच-बीच में बढ़ जाता है. इन सब बीमारियों का इलाज यहां चल रहा है.

मैं आपको सूचित करना चाहता हूं कि बिरसा मुंडा कारागार रांची एंव रांची मेजिकल कॉलेज अस्पताल रांची में किडनी का कोई समुचित इलाज एवं देखरेख की व्यवस्था नहीं है. प्रत्येक नागरिक का यह मूलभूत संवैधानिक अधिकार है कि उसका समुचित इलाज उसके संतुष्टि के अनुसार हो. न जाने कि एजेंसी या किस राजनीतिक दबाव में मुझे यहां से एकाएक हटाने का निर्णय लिया जा रहा है. आपको मालूम हो कि मैं कस्टडी में बंदी हूं. 16 घंटे दिल्ली से रांची ट्रेन से जाने में लगता हैं.

चिकित्सक भगवान के दूसरे स्वरूप होते हैं. उन्हें किसी व्यक्ति या राजनीतिक दल के दबाव में आकर कोई निर्णय नहीं लेना चाहिए. उनका प्रथम कर्तव्य होता है मरीज के स्वास्थ्य में सुधार. इसलिए जब तक मैं पूर्णरूप से स्वस्थ नहीं हो जाता, तब तक मुझे यहीं रखकर मेरा इलाज किया जाए.

अगर मुझे इस आयुर्विज्ञान संस्थान से रांची मेडिकल कॉलेज भेजा जाता है और इससे मेरे जीवन पर किसी भी प्रकार का कोई खतरा उत्पन होता है तो इसकी पूरी जवाबदेही आप सबों पर होगी, यह मैं आपको सूचित कर रहा हूं.

भवदीय
लालू प्रसाद यादव

बता दें कि इससे पहले लालू यादव से मिलने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पहुंचे और उनकी सेहत का हाल जाना. इससे पहले उनके छोटे बेटे तेजस्वी भी एम्स जाकर उनसे मिल चुके हैं.

Back to top button