राष्ट्रीय

जम्मू-कश्मीर में टला एक बड़ा हादसा, डिफ्यूज किया गया बरामद हुआ आईईडी

जम्मू-कश्मीर में सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा

नई दिल्ली: पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से 370 हटा कर उसे केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया गया. धारा 370 हटने की कल पहली बरसी है. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, आतंकी 5 अगस्त को बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं. इसको लेकर सुरक्षा एजेंसियां चौकन्नी है.

पूरे जम्मू-कश्मीर में सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. इसके साथ ही श्रीनगर जिले में तत्काल प्रभाव से कर्फ्यू लगा दिया गया है. यह कर्फ्यू चार और पांच अगस्त को जारी रहेगा. प्रशासन को रिपोर्ट मिली है कि कुछ अलगाववादी संगठन प्रदर्शन कर सकते हैं.

इसके बाद जम्मू-कश्मीर सरकार की ओर से कर्फ्यू का आदेश जारी किया गया. इस आदेश में कहा गया कि हमें ऐसी रिपोर्ट मिली है कि कुछ अलगाववादी और पाकिस्तान समर्थित संगठन पांच अगस्त को जिले में ‘ब्लैक डे’ मनाने वाले हैं. इस वजह से श्रीनगर जिले में कर्फ्यू लगा दिया है.

प्रशासन का कहना है कि अलगाववादी संगठन के लोग हिंसक प्रदर्शन भी कर सकते हैं. जिससे जान-माल को भी खतरा पहुंच सकता है. इसके अलावा कोरोना को देखते हुए भी इलाके में भीड़ इकट्ठा होने को लेकर पाबंदी है. ऐसे में किसी तरह के प्रदर्शन से उस आदेश की अवहेलना होगी.

वहीँ आज श्रीनगर-बारामुला नेशनल हाइवे पर सेना की रोड ओपनिंग पार्टी (आरओपी) को एक आईईडी मिला. यह आईईडी टप्पर पट्टन के पेट्रोल पंप के पास एक पुलिया के नीचे लगाया गया था. आईईडी को डिफ्यूज कर दिया गया है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button