कर्ज में डूबा व्यक्ति कर रहा था परिवार को नीलाम

पुलिस ने कहा की शिकायत उत्पीड़न को लेकर थी जिसकी पुलिस जांच कर रही है।

आंध्रप्रदेश : पसुपुलेती ने पहले 1.5 लाख मे अपनी 17 साल की बड़ी बेटी को रिश्तेदार को इस शर्त पे बेच दिया की वो उसकी शादी करायेगा। पसुपुलेती की 4 और बेटीया है और एक लड़का भी है, उसकी बाकि लडकियों की उम्र 10,8 और 6 साल है.

वही उसके बेटे की उम्र 4 साल है। जब पसुपुलेती ने बड़ी बेटी को बेचकर आये पैसो को खर्च कर दिया, तो उसने अपनी पत्नी, तीन बेटियों और अपने बेटे को भी अपने भाई बुसी को 5 लाख में बेचना चाहा।

इस पूरी बात से पर्दा तब उठा जब बुसी ने पसुपुलेती के सामने ये शर्त रख दी की वो उसकी पत्नी वेंकताम्मा के साथ एक एग्रीमेंट करगे, इसलिए जब पसुपुलेती अपनी पत्नी के पास कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर कराने गया तो उसकी पत्नी ने मना कर दिया, पर जब पसुपुलेती उसे इस बात के लिए परेशान करने लगा तो वेंकताम्मा उसे छोड़ अपने पिता के घर वापस आ गयी।

वेंकताम्मा के पिता जब पसुपुलेती के खिलाफ उत्पीड़न के मामले मे शिकायत दर्ज करने नन्द्याल पुलिस स्टेशन पहुँचे तो पुलिस ने उनकी शिकायत लिखने से मना कर दिया, नन्द्याल पुलिस स्टेशन के सब इस्पेक्टर ने बताया की पसुपुलेती जिस बुदागा जंगलु समुदाय से आता है उस समुदाय मे पत्नी की खरीद फरोद आम बात है। हलाकि पुलिस ने कहा की शिकायत उत्पीड़न को लेकर थी जिसकी पुलिस जांच कर रही है।

वही समन्वित बाल विकास सेवा का मानना है की ये बात सही है की बुदागा जंगलु मे पत्नियों की खरीद फरोद आम है लेकिन पुरे परिवार की इच्छा के विरुद्ध बेचना इस पुरे केस को अलग बनाता है। हलाकि समन्वित बाल विकास सेवा के अधिकारी ने बताया की बेची गयी दो बड़ी बेटियों को छुड़ा लिया गया है और उन्हें स्टेट होम मे भेज दिया है।

Back to top button