छत्तीसगढ़

आंगनबाड़ी केन्द्रों में तैयार की जायेगी पत्तेदार सब्जियों वाली पोषण वाटिका : कलेक्टर भीम सिंह

कृषि विज्ञान केन्द्र व महिला बाल विकास विभाग संयुक्त रूप से करेगा कार्य

हिमालय मुखर्जी ब्यूरो चीफ रायगढ़

  • कलेक्टर सिंह ने कृषि विज्ञान व अनुसंधान केन्द्र का किया निरीक्षण

रायगढ़, 4 नवम्बर 2020: कलेक्टर भीम सिंह ने कृषि विज्ञान व अनुसंधान केन्द्र के औचक निरीक्षण में पहुंचे। वहां उन्होंने कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा किए जा रहे कार्यों का अवलोकन किया। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत ऋचा प्रकाश चौधरी भी मौजूद रही।

कलेक्टर सिंह ने कृषि विज्ञान केन्द्र में तैयार की गई आदर्श पोषण वाटिका का अवलोकन कर जानकारी ली। प्रभारी अधिकारी ने बताया कि पोषण वाटिका में दैनिक पोषक तत्वों की आवश्यकता की पूर्ति के लिये 7 प्रकार की पत्तेदार सब्जियां एक साथ उगाई जाती है। जिसमें पालक, मेथी, कुसुम, चौलाई, धनिया, लाल भाजी और मूली भाजी जैसे पत्तेदार सब्जियां शामिल है। इसके मेड़ में गाजर और मूली और साथ ही गोभी, टमाटर जैसी सब्जियां उगाई जाती है।

आंगनबाड़ी केन्द्रों में तैयार की जायेगी पत्तेदार सब्जियों वाली पोषण वाटिका : कलेक्टर भीम सिंह

कलेक्टर सिंह ने ऐसी पोषण वाटिका जिले के समस्त आंगनबाड़ी केन्द्रों में तैयार करवाने के निर्देश दिये और कहा कि कृषि विज्ञान केन्द्र तथा महिला बाल विकास विभाग संयुक्त रूप से यह पोषण वाटिका तैयार करने के लिये कार्य करेगा। इसके लिये मिट्टी से संबंधित कार्य मनरेगा से करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि महिलाओं तथा बच्चों में एनीमिया व कुपोषण की समस्या होती है जिसे दूर करने में यह पत्तेदार सब्जियों वाली पोषण वाटिका कारगर सिद्ध होगी।

कृषि अनुसंधान केन्द्र का भ्रमण

कलेक्टर सिंह ने इसके साथ ही कृषि अनुसंधान केन्द्र का भ्रमण कर वहां तैयार की जा रही फसलों की स्थानीय किस्मों की जानकारी ली। केन्द्र प्रभारी ने बताया कि वहां मसाले में हल्दी, धनिया तथा मूंगफली की वेरायटी विकसित की जा रही है। कलेक्टर सिंह ने जिले के किसानों को यहां तैयार वेरायटी के बीज उपलब्ध कराकर उत्पादन करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने अनुसंधान केन्द्र के फॉर्म एरिया का निरीक्षण कर वहां करवाये जाने वाले आवश्यक कार्यों का प्रपोजल प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

कलेक्टर सिंह ने बीज निगम प्रक्रिया केन्द्र का भी निरीक्षण किया। यहां उन्होंने बीज उत्पादन कार्यक्रम के तहत आधार व प्रमाणित बीजों के उत्पादन व वितरण की जानकारी ली। परिसर का भ्रमण कर वहां स्टेकिंग व ग्रेडर मशीन की कार्यप्रणाली देखी। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को स्थानीय स्तर पर ही अधिक मात्रा में बीज उत्पादन की दिशा में कार्य करने के लिये कहा जिससे किसानों को समय पर बीज मिल सके। कलेक्टर सिंह ने फर्टिलाइजर क्वालिटी कंट्रोल के लिये निर्माणाधीन लैब का भी निरीक्षण किया और निर्माण कार्य को जल्द पूरा करने के निर्देश उन्होंने दिये।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button