राष्ट्रीय

बलात्कार और हत्या के मामले में एक शख्स को तीन बार मौत की सजा

साथ ही 30 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया

पुधुकोट्टई:तमिलनाडु में एक दिव्यांग लड़के का बलात्कार करने और फिर उसकी हत्या को लेकर एक 34 वर्षीय व्यक्ति को पुधुकोट्टई की एक महिला अदालत ने मौत की तीन सजा सुनाई है.

असल में, आरोपी दानिश पटेल ने 17 साल के एक दिव्यांग लड़के को पुधुकोट्टई में सुनसान जगह पर ले जाकर बलात्कार किया और बाद में लड़के के निजी अंगों में लकड़ी डाल दी थी. गंभीर रूप से घायल लड़के को पुधुकोट्टई के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां 18 दिन बाद मल्टीपल ऑर्गन फेल्योर के चलते उसकी मौत हो गई थी.

पुलिस ने इस मामले में गुजरात के रहने वाले दिहाड़ी मजदूर दानिश पटेल के खिलाफ POCSO और आईपीसी की धारा 363 व 302 के तहत केस दर्ज किया था. अदालत ने POCSO की तीनों धाराओं के तहत दानिश को दोषी करार दिया और उसे तीन काउंट पर मौत की सजा सुनाई है.

साथ ही 30 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है. इसके अलावा लड़के के परिवार को 6 लाख रुपये का मुआवजा दिया गया था. अदालत ने राज्य सरकार को परिवार को अतिरिक्त 3 लाख रुपये मुआवजा देने का भी निर्देश दिया है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button