नीली बत्ती लगाकर नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे

फर्जी पुलिस वाला बनकर व स्वंय को एसडीएम का ड्रायवर बताकर स्कार्पियो में नीली बत्ती लगाकर नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाला चढ़ा पुलिस के हत्थे

हिमांशु सिंह ठाकुर ब्यूरो कवर्धा की रिपोर्ट।

कवर्धा : पुलिस अधीक्षक के निर्देषन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्षन एवं उप पुलिस अधीक्षक, परवीक्षाधीन उप पुलिस अधीक्षक और थाना प्रभारी कवर्धा के नेतृत्व में आदर्ष नगर में जाकर बताये गये स्थान में रेड किया जहां रवि उर्फ धरमदास महंत पिता फेकूराम महंत स्थाई निवासी खरमोडा थाना कोरबा जिला कोरबा छ0ग0 हाल पता आदर्ष नगर कवर्धा थाना कवर्धा जिला कबीरधाम छ0ग0 मिला जिसके पास से पुलिस आरक्षक की वर्दी एवं मार्कषीट व आधार कार्ड व अन्य दस्तावेज एवं एक स्कार्पियो वाहन क्रमांक सीजी 12/एपी/3498 बरामद किया गया।

विस्तृत पुछताछ पर उक्त वाहन को दो माह पूर्व कोरबा जिला के ग्राम मोरगा थाना बांगो से चोरी करना बताया जहां अज्ञात चोर के विरूद्ध जुर्म दर्ज है खुलासा हुआ की उक्त व्यक्ति स्वयं को एसडीएम का ड्रायवर हूं कहकर उक्त स्कार्पियो वाहन से आरक्षक की वर्दी लगाकर आसपास के क्षेेत्र में घूमता था, करीबन एक माह पूर्व ग्राम लोचन, थाना पिपरिया में जाकर ग्राम लोचन के निवासी दुखित निषाद एवं उसके भाई दीपक निषाद से 50000 रूपये में चपरासी की नौकरी लगाने की बात की और 4000-4000 रूपये दोनो से एडवांस के बतौर लिया गया था

प्रार्थी की रिर्पोर्ट पर थाना कवर्धा में उक्त व्यक्ति के विरूद्ध अपराध क्रमांक 162/2020 धारा 170, 420 भादवि. दर्ज कर ज्यूडिसियल रिमांड पर भेजा गया है उपरोक्त कार्य में सउनि. संजय मरावी, आर. देवनारायण, गज्जू राजपूत, राजेष्वर कोसरिया एवं सैनिक अनिल पाण्डेय का योगदान रहा।

Tags
Back to top button