इंडोनेशिया में तेज़ भूकंप, 21 वर्षीय एयर ट्रैफिक कंट्रोलर की मौत

21 साल के एंथोनियस ने विमान की सेफ लैंडिग करवाई

जकार्ताः

इंडोनेशिया में तेज़ भूकंप आने के बाद वहाँ का माहौल इतना खराब हो गया कि 21 वर्षीय युवक एयर ट्रैफिक कंट्रोलर की मौत हो गई ।

मरने से पहले युवक ने यहां अपनी सीट पर टिके रहे और एक यात्री विमान को सुरक्षित उतारने में मदद की और विमान की सेफ लैंडिग करवाई।

इस एंथोनियस की मौत के बाद सोशल मीडिया पर उनकी किसी हीरो की तरह वाहवाही हो रही है।

21 साल के एंथोनियस गुनावान आगुंग पालू के मुशियारा एसआईएस अल-जफरी एयरपोर्ट पर एयर ट्रैफिक कंट्रोल टॉवर में तैनात थे।

शुक्रवार को वो अपनी ज़िम्मेदारी संभाल रहे थे, तभी सुलावेसी द्वीप के इस शहर में भूकंप के तेज़ झटके महसूस किए गए।

अधिकारियों के मुताबिक, आगुंग ने बाटिक एयर के एक विमान के उतरने से पहले अपनी जगह छोड़ने से मना कर दिया।

वहीं उनके कुछ सहकर्मी चले गए जिन पर विमान के नियंत्रण की ज़िम्मेदारी नहीं थी।

एयरनेव इंडोनेशिया के प्रवक्ता योहान्स हैरी सिरैट ने कहा, ‘जब भूकंप आया तो वो बाटिक एयर के विमान को उतरने के लिए संदेश दे रहे थे

और उन्होंने विमान के सुरक्षित उतरने तक इंतज़ार किया और उसके बाद ही एटीसी केबिन टॉवर से बाहर निकले।’

इसी दौरान 7.5 तीव्रता का भूकंप का ज़ोरदार झटका आया, जो अपने साथ सुनामी भी लाया। आगुंग ने बचने की कोशिश में चार मंजिला टॉवर से छलांग लगा दी।

उनकी टांग टूट गई और गंभीर भीतरी चोटे आईं।उन्हें पास के अस्पताल ले जाया गया और प्राथमिक उपचार किया गया।

उन्हें बेहतर चिकित्सा सुविधाओं के लिए एयरलिफ्ट करके बड़े अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन हेलीकॉप्टर आने से पहले उनकी मौत हो गई।

एयरनेव ने एक बयान में कहा कि आगुंग के उत्कृष्ट समर्पण के लिए उनके सम्मान के रूप में कंपनी प्रतीकात्मक रूप में उनका दर्ज़ा दो स्तर प्रमोट करेगी।

Back to top button