ए राजा ने कहा 2जी मामला कांग्रेस के नेतृत्व वाली UPA सरकार को गिराने की साज़िश थी

टूजी घोटाला मामले में बरी होने के एक दिन बाद पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा ने शुक्रवार को दावा किया कि ये कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को गिराने की साज़िश थी


ए राजा ने कहा 2जी मामला कांग्रेस के नेतृत्व वाली UPA सरकार को गिराने की साज़िश थी

टूजी घोटाला मामले में बरी होने के एक दिन बाद पूर्व दूरसंचार मंत्री ए राजा ने शुक्रवार को दावा किया कि ये कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को गिराने की साज़िश थी. उन्होंने दुख जताया कि यहां तक कि तत्कालीन केंद्र सरकार इसे भांप नहीं सकी.

द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि को लिखे एक पत्र में राजा ने वर्चस्ववादी ताकतों की संभावित भूमिका के बारे में आशंका जताई. साथ ही लिखा कि ये ताकतें उस वक्त क्षेत्रीय दल को राष्ट्रीय राजनीति के फलक पर बर्दाश्त नहीं कर सकती थीं.

गौरतलब है कि यूपीए-1 सरकार में 2004 से 2009 के दौरान द्रमुक मुख्य साझेदार थी. उस वक्त राजा दूरसंचार मंत्री थे और वो यूपीए-2 में साल 2013 तक इस पद पर रहे.

राजा ने साज़िश के पीछे मौजूद किसी का नाम लिए बगैर कहा कि ये अफसोसजनक है कि यूपीए सरकार खुद को मात देने की साज़िश में फंसी और सरकार खुद से स्पेक्ट्रम मुद्दे को उजागर नहीं कर पाई. स्पेक्ट्रम के बारे में आरोप कुछ लोगों ने लगाए और इसे आगे सीबीआई जैसी संस्थाओं ने बढ़ाया जो कि भारतीय और विश्व इतिहास, दोनों में नया था

राजा ने कहा कि सरकार साज़िश को महसूस कर पाने में खुद नाकाम रही थी जबकि खुफिया इकाई इसके तहत आती है.

उन्होंने कहा कि कुछ दूरसंचार कंपनियों का गिरोह उनकी नीति के चलते बुरी तरह से प्रभावित हुआ था. उनकी नीति के चलते ही लोगों को अब अपने स्मार्टफोन पर व्हाट्सऐप और टि्वटर जैसी कई सुविधाएं मिल रही हैं.

गौरतलब है कि दिल्ली स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने टूजी घोटाला मामले में राजा और करुणानिधि की बेटी कनिमोझी सहित सभी अन्य आरोपियों को गुरुवार को बरी कर दिया था.

advt
Back to top button