बड़ी खबरराजनीतिराष्ट्रीय

बीजेपी को झटका,पासवान ने कहा NRC का नहीं करेंगे समर्थन

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और प्रस्तावित एनआरसी (NRC) को लेकर देश के कई हिस्से सुलग रहे हैं. लोग इस कानून के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

सीएम नीतीश कुमार ने शुक्रवार को साफ कर दिया कि वो बिहार में एनआरसी लागू नहीं करने जा रहे हैं. नीतीश के बयान के बाद बीजेपी के एक और सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) ने एनआरसी पर यूटर्न ले लिया है.

एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने आज एक साथ चार ट्वीट किए. चिराग पासवान ने कहा कि उन्होंने 6 दिसंबर को ही गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर ये कहा था कि वे अपनी सहयोगी पार्टियों के साथ बैठ कर CAA और NRC पर चर्चा करें. लेकिन सरकार ने ऐसा नहीं किया.

अगर सरकार के फैसलों को लेकर जनता में असंतोष और भ्रम की स्थिति है तो उसे दूर करना सरकार का काम था. लेकिन सरकार ऐसा करने में विफल रही.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि CAB और NRC को जोड़ कर जिस तरह से पूरे देश में प्रदर्शन हो रहा है उससे सरकार की विफलता साबित हो गयी है.

चिराग पासवान ने कहा है कि लोक जनशक्ति पार्टी ये विश्वास दिलाती है की NRC को लेकर मुसलमान, दलित और वंचित वर्ग के लोगों की जो चिंताए है उसका उसका पूरा ध्यान रखा जाएगा. लोक जनशक्ति पार्टी किसी ऐसे विधेयक का समर्थन नहीं करेगी जो आम लोगों के हित में ना हो.

बता दें कि आज सीएम नीतीश कुमार ने भी कह दिया कि वो बिहार में एनआरसी लागू नहीं करेंगे. नीतीश कुमार शुक्रवार को पटना के बापू सभागार में इंडियन रोड कांग्रेस के चार दिवसीय सेमिनार का उद्घाटन करने पहुंचे थे. इसी दौरान पत्रकारों ने उनसे एनआरसी के विषय में सवाल किया. नीतीश कुमार ने कहा कि उनके रहते अल्पसंख्यकों के साथ अन्याय नहीं होगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं किया जाएगा.

Tags
Back to top button