दंतेवाड़ा में एक सरेंडर नक्सली लड़की ने विश्राम कक्ष में फांसी लगाकर दी जान

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच शुरू कर दी

दंतेवाड़ा:जिला मुख्यालय में स्थित डीआरजी कार्यालय के महिला विश्राम कक्ष में सरेंडर कर चुकी नक्सली लड़की पांडे कवासी ने फांसी लगाकर जान दे दी है. लड़की की उम्र बीस साल है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले में चल रहे लोन वर्राटू (घर वापस आइए) अभियान से प्रभावित होकर इस महीने की 19 तारीख को पांच लाख रुपए की इनामी महिला नक्सली जोगी कवासी और नक्सली लड़की पांडे कवासी ने सरेंडर किया था.

उन्होंने बताया कि सरेंडर करने के बाद से पांडे कवासी डीआरजी कार्यालय के महिला विश्राम कक्ष में दूसरी महिला नक्सली जोगी कवासी के साथ रह रही थी. इस दौरान दो महिला पुलिसकर्मी सुरक्षा के लिए तैनात थीं.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार दोपहर बाद पांडे कवासी नहाने चली गई. इसकी जानकारी उसने जोगी कवासी और अन्य दो महिला पुलिस कर्मियों को दी थी, जब लगभग 20 मिनट बाद भी पांडे कवासी बाथरूम से बाहर नहीं निकली तब जोगी कवासी और दो महिला पुलिसकर्मी ने दरवाजे को धक्का देकर खोला.

दरवाजा खुलते ही उन्होंने देखा कि पांडे कवासी ने खिड़की के सहारे गमछे से फांसी लगा ली है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद डॉक्टर भी महिला विश्राम कक्ष पहुंच गए थे, जहां उन्होंने टेस्ट के बाद पांडे कवासी को मृत घोषित कर दिया. उन्होंने बताया कि पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button