दिल्ली में एक शिक्षक का क्रूर चेहरा आया सामने,पत्नी और तीन बच्चों को उतारा मौत के घाट

महरौली इलाके के वार्ड 2 की घटना, वजह नहीं आयी सामने

नई दिल्ली: दिल्ली में आज एक शिक्षक का क्रूर चेहरा सामने आया। घटना मेहरौली के वार्ड 2 की है। उपेंद्र नामक पेशे से टीचर ने आज अपनी पत्नी और 3 बच्चों की गाला रेत की हत्या कर दी। वजह अबतक सामने नहीं आयी है। उसने एक नोट के माध्यम से हत्या को कबूल किया है। पुलिस ने गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है।

आरोपी ने पहले अपनी पत्नी की चाकू घोपकर हत्या की फिर अपने मासूम बच्चों की गला रेत कर हत्या कर दी। पेशे से टीचर उपेंद्र बच्चों को होम टूशन देता था। घटना के बाद इलाके सनसनी फ़ैल चुकी है। शख्स की दो बेटियां और एक बेटा है. बड़ी लड़की उम्र 7 वर्ष, लड़के की उम्र 5 साल और सबसे छोटी लड़की की उम्र डेढ़ महीने बताई जा रही है। आरोपी का नाम उपेंद्र शुक्ला है। उसने शुक्रवार देर रात 1 से 1.30 बजे के बीच सभी की हत्या कर दी। मृतक बच्चों में एक लड़का,दो लड़किया और पत्नी शामिल हैं।

उपेंद्र से पूछताछ में उसने खुद को डिप्रेशन में होना बताया है। घटना के समय आरोपी की सास भी रहती है। जब सास के बुलाने पर मृतक ने दरवाज़ा नहीं खोला तो सास ने डायल 100 में फ़ोन करके पुलिस को सूचना दी जिसके बाद पुलिस ने वह आकर आरोपी को हिरासत में ले लिया।

डीसीपी विजय कुमार के मुताबिक सुबह 7 बजकर 10 मिनट पर पुलिस को कत्ल की जानकारी मिली। उपेंद्र शुक्ला ने तीन बच्चों और पत्नी का कत्ल किया है। उसकी दो बेटी और एक बेटा है। आरोपी ने देर रात चाकू से सभी कत्ल किए हैं। उपेंद्र बिहार के चंपारण का रहने वाला है।

लाश के पास से उपेंद्र के लिखे दो नोट बरामद हुए हैं,जिसमें से एक हिंदी और एक अंग्रेजी में लिखा हुआ है। इन नोट्स में उपेंद्र ने लिखा कि ये सभी कत्ल मैंने किए हैं। मैं इसके लिए जिम्मेदार हूं। डीसीपी के मुताबिक उपेंद्र की पत्नी अर्चना डायबिटीज से पीड़ित थी और आर्थिक तंगी डिप्रेशन और कत्ल की वजह हो सकती है।

Back to top button