उत्तर प्रदेश

सूदखोर से परेशान जूता कारीगर ने बीवी और दो बच्चों के साथ खाया विषाक्त पदार्थ

सूदखार ने कॉल करवाकर पत्नी अनुराधा को भी चेकबुक के साथ बुला लिया।

नई दिल्ली/आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा शहर में शनिवार रात को सूदखोर से परेशान होकर जूता कारीगर ने बीवी एवं दो बच्चों के साथ कोल्ड ड्रिंक में विषाक्त पदार्थ पीकर सुसाइड करने कि कोशिश कि। इससे पूर्व उसने अपने संबंधियों के व्हाट्सएप पर एक वीडियो भी भेजा, जिसमें सूदखोर के उत्पीड़न की बात कही। रविवार की प्रातः वीडियो देखने के पश्चात् रिश्तेदार उसके घर आए। तब चारों को घर से निकाल कर एसएन मेडिकल कॉलेज आपातकालीन में एडमिट कराया।

मार्च में लॉकडाउन

थाना शाहगंज इलाके के ग्यासपुरा रहवासी दीपक कुमार जूता कारीगर है। वह ठेके पर जूते लाकर बनाने का कार्य करता है। दीपक ने एक वर्ष पूर्व एक शख्स से 1.15 लाख रुपये उधार लिए थे। इस पर 10 प्रतिशत ब्याज बताई गई थी। मार्च में लॉकडाउन हो गया। इस वजह से दीपक का काम बंद हो गया। राशि वापस नहीं कर सका। इस पर सूदखोर तथा उसके भाइयों समेत अन्य मित्र घर के चक्कर काटने लगे।

वही इसकी कम्प्लेन दीपक ने पुलिस से की थी, परन्तु शिकायत पर सुनवाई नहीं हुई। सूदखोर के आए दिन के तगादे से परेशान होकर दीपक ने 23 सितंबर को अपने घर का सौदा कर दिया। उसे इसके 1.5 लाख रुपये प्राप्त हुए। दीपक ने साहूकार को कॉल करके मूलधन को ले जाने को कहा। किन्तु उसने शाम को अपने घर पर बुलाया। यहां पर बंधक बना लिया। उसकी पिटाई की। तत्पश्चात, स्टांप पर हस्ताक्षर करा लिए। वही पीड़ित का आरोप है कि सूदखार ने कॉल करवाकर पत्नी अनुराधा को भी चेकबुक के साथ बुला लिया। वही अब पुरे मामले कि जाँच की जा रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button