दहेज प्रताड़ना से पीड़ित युवती ने लगा ली फांसी, रोकने के बजाए पति बनाता रहा विडियो

पुलिस ने ससुरालियों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न एवं गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसके पति राजकपूर व सास विमला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था.

मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में दहेज के लिए ससुरालियों द्वारा किए जाने वाले उत्पीड़न एवं रोज-रोज के तानों से तंग युवती ने फांसी लगा ली, फांसी लगाने के दौरान विवाहिता का पति उसे रोकने की बजाए वीडियो बनाता रहा.

पुलिस के अनुसार थाना हाईवे क्षेत्र की बुद्ध विहार कॉलोनी में गुरुवार रात विवाहिता ने फांसी लगाई. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस व युवती के परिजन रात में ही उसके घर पहुंच गए थे.

पुलिस ने ससुरालियों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न एवं गैरइरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसके पति राजकपूर व सास विमला को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था.

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक दो दिन बाद शनिवार की शाम सोशल मीडिया पर वायरल हुए 12 मिनट 14 सेकेंड के एक वीडियो ने रोंगटे खड़े कर दिए. इस वीडियो में विवाहिता फांसी का फंदा लगाते दिख रही है,

जबकि उसका पति उसे रोकने की बजाए उसे उकसा रहा था. पति इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाता रहा जबकि सास व ननद दरवाजे के बाहर खड़ी होकर उसे खुदकुशी न करने की कसम दिला रही थीं.

इस मामले में पुलिस का भी मानना है कि उक्त वीडियो किसी बाहर के व्यक्ति ने नहीं, स्वयं परिजनों ने बनाया है. उसमें सास व ननद की आवाज दर्ज है जो केवल मुंह-जुबानी कोशिशें करतीं लग रही हैं और पति बेपरवाही से वीडियो क्लिप बनाते हुए उसे और उकसा रहा है.

एसपी सिटी श्रवण कुमार ने बताया कि वीडियो आने के बाद पुलिस ने इस मामले की नए सिरे से जांच शुरू कर दी है क्योंकि वीडियो से प्रथमदृष्टया यह तो सीधे तौर पर सिद्ध हो रहा है कि विवाहिता के ससुराली उसको बचाने में नहीं, बल्कि मर जाने देने में ज्यादा खुश थे.’’

उन्होंने बताया, ‘‘परिजनों के अनुसार प्रेमनगर निवासी गीता की राजकपूर से 22 अप्रैल 2015 को शादी हुई थी. कुछ दिनों के बाद से ही उसके ससुरालीजन कार की मांग को लेकर उसका रोजाना उत्पीड़न करने लगे थे. अक्सर उसे कम दहेज लाने का ताना देते थे और कई बार तो मारते-पीटते भी थे.’’

Back to top button