क्राइम

राजधानी के एक युवक की पचमढ़ी में गोली मारकर हत्या, अरबपति था युवक

बाइकर्स की टीम के साथियों के साथ ही हुआ था आपसी विवाद

रायपुर/होशंगाबाद: राजधानी के एक युवक की पंचमढ़ी में गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक कपिल कक्कड़ रायपुर के एक बड़े व्यवसायिक घर से ताल्लुक रखता है। कपिल बाइकर्स की टीम के साथ पंचमढ़ी ट्रिप पर गया था।

इसी दौरान बाइकर्स की टीम के साथियों के साथ ही आपसी विवाद हो गया, जिसके बाद आरोपी धर्मपाल सिंह ने राजधानी रायपुर के रहने वाले कपिल कक्कड़ को गोली मार दी। आरोपी धर्मपाल सिंह दुर्ग का रहने वाला है।

होशंगाबाद के एसपी ने मीडिया को बताया कि आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी के बयान के बाद इस पूरे मामले में जांच का दायरा आगे बढ़ाया जायेगा। मिली जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले छत्तीसगढ़ के अलग-अलग हिस्सों से 20 बाइकर्स की टीम पंचमढ़ी इंटरटेरमेंट टूर पर गयी हुई थी।

बाइकर्स की टीम पंचमढ़ी में चंपक होटल में रूकी हुई थी। खाने के टेबल पर ही कपिल कक्कड़ के साथ आरोपी धर्मपाल सिंह का विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि आरोपी ने पास रखे कट्टे से कपिल कक्कड़ को मार दी।

गोली की आवाज से पूरे होटल में सनसनी मच गयी, अफरा-तफरी के बीच कपिल ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वहीं धर्मपाल घटना के बाद भी मौके पर ही मौजूद रहा। घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को वहीं गिरफ्तार कर लिया, वहीं वारदात में इस्तेमाल पिस्टल को भी आरोपी के पास से बरामद किया गया है।

अरबपति थे मृतक कपिल कक्कड़

राजधानी के रईस लोगों में कपिल कक्कड़ की गिनती होती है। कपिल कक्कड़ और उसके परिवार का कटोरा तालाब में बड़ा अलिशान बंगला और मार्केट काम्प्लेक्स है। कटोरा तालाब में ही कपिल कक्कड़ का “कक्कड़ भवन” है। जानकारी के मुताबिक कपिल के पिता हाल ही में आर्मी से रिटायर हुए हैं। खुद मृतक भी बड़ा बिजनेसमैन है और परिवार का पूरा कारोबार खुद ही संभालता है।

बॉडीगार्ड संग चलता है आरोपी धर्मपाल

आरोपी धर्मपाल दुर्ग का रहने वाला है। बाईकर्स गैंग से जुड़े लोग बताते हैं कि आरोपी धर्मपाल हमेशा पिस्टलधारी बॉडीगार्ड के साथ ही चलता है। खुद धर्मपाल के पास भी लाइसेंसी पिस्टल है। हालांकि वारदात के वक्त आरोपी के पास खुद का पिस्टल था या फिर वो बॉडीगार्ड के साथ ही पंचमढ़ी गया था, जहां उसने ये वारदात को अंजाम दिया।

10-10 लाख की है इन बाइकर्स की बाइक

बाइकर्स टीम में शामिल बाइकर्स कितने रईस हैं, इसका इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इनकी एक-एक बाइक 10-10 लाख की होती है। पंचमढ़ी गये गये युवकों की बाइक भी इतनी ही महंगी रही होगी। जानकारी के मुताबिक हर महीने ये बाइकर्स इसी तरह तक ग्रुप में टूर पर निकलते हैं और फिर 4 से पांच दिन बाद वापस लौटते हैं।

Tags
Back to top button