भैदपुर गांव में एक युवती की संदिग्ध परिस्थितियों में जलकर मौत

मृतका 10-12 दिन पूर्व यहां अपने मामा के घर आई हुई थी

रायबरेली:उत्तर प्रदेश के रायबरेली के जगतपुर थाना क्षेत्र के झारा गांव निवासी धनंजय सिंह की पुत्री शालू (22) भदखोर थाना क्षेत्र के भैदपुर गांव में पिछले दस-बारह दिन पहले आई थी. शालू की बड़ी बहन भी करीब 6 महीने से यहीं रह रही थी. बीती रात संदिग्ध अवस्था में शालू की जलकर मौत हो गई.

मामा के घरवालों ने सुबह आनन-फानन में शव के अंतिम संस्कार की तैयारी कर लिया. उधर ग्रामीणों में से किसी ने पुलिस को घटना की खबर कर दिया. सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी के साथ थाने की पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस की जांच में ये तथ्य सामने आया कि मृतका का बाल छोड़ शरीर का कई अंग जल चुका था.

उसकी स्वेटर एक मुंडेर पर रखा था. घटनास्थल पर माचिस और केरोसीन का डब्बा भी मिला है. केरोसीन का डिब्बा शव से करीब डेढ़ मीटर की दूरी पर पाया गया. इस पूरी घटना पर एडिशनल एसपी ने बताया कि मामला संदिग्ध है. युवती ने आत्महत्या किया या फिर उसे जलाकर मारा गया? ये जांच का विषय है.

उन्होंने कहा की मृतका के मामा के घरवाले बगैर किसी सूचना के शव के अंतिम संस्कार में जुटे थे, इस कारण वो भी संदिग्ध हैं. उन लोगों से पूछताछ की जा रही है. पोस्टमार्टम की रिपोर्ट और जांच में जो तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर विधिक कार्यवाही की जाएगी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button