छत्तीसगढ़राजनीति

“हर घर रोजगार,घर घर रोजगार ” का संकल्प पूरा करे सरकार-आम आदमी पार्टी

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ी भाषा में लिखा पत्र और कहा की "हर घर रोजगार,घर घर रोजगार " का संकल्प पूरा करे सरकार

रायपुर। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेण्डी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ी भाषा में पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ के रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत लगभग 24 लाख बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने की मांग की है।श्री हुपेण्डी ने बताया कि प्रदेश के गठन को 19 बरस पूरे हो चुके है लेकिन आज तक पूर्ववर्ती 15 साल की भाजपा सरकार हो अथवा वर्तमान कांग्रेस सरकार,किसी ने बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने में खास रुचि नहीं ली है।

आज भी प्रदेश के युवा रोजगार के लिए दर दर की ठोकरें खा रहे हैं। कोमल हुपेण्डी ने आगे कहा की कांग्रेस पार्टी ने अपनी चुनावी जन घोषणा पत्र में “हर घर रोजगार-घर घर रोजगार” का वादा प्रदेश की जनता से किया तो था लेकिन आज तक कोई ठोस निर्णय वर्तमान सरकार भी नहीं कर रही है। यह प्रदेश के युवाओं के साथ धोखा है।

उन्होंने फिर जोर देकर कहा कि यदि सरकार इस मसले पर गम्भीरता नहीं दिखाती है तो आने वाले समय में प्रदेश के युवा सरगुजा से लेकर बस्तर तक अपने हक व अधिकार की लड़ाई सड़क पर भी लड़ने को मजबूर हो जायेंगे।

आदरनीय सिरी भूपेस बघेल जी,
मुख्यमंत्री छ0ग0सासन
जय जोहार
अपन जनम ले अठारा बच्छर म ल इका ह जवान हो जाथे, ए हिसाब ले गुनन त हमर छत्तीसगढ़ राज
ह ओन्नाइस बच्छर के चेलिक हो गेहे।
तभोले आज छत्तीसगढ़ के जवान भाई
बहिनी मन काम बूता, रोजगार खातिर
ये दफ्तर ले ओ दफ्तर म भटकत हें।
सरकारी आंकड़ा ल देखन त रोजगार
दफ्तर मन म साढे़ तेइस लाख बेरोजगार पंजीकृत हें। रोजगार न इहे जेकर कारन राज के लाखों नवजवान
बेरोजगारी के दंस ल झेलत हें। छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री अपन राज के
नवजवान मन के दुख पीरा ल समझही
, अइसे सोंच के चिट्ठी ल आप ल पठोवत हौं।
ये चिट्ठी ह केवल कोमल हुपेंडी के नोहे भलकि छत्तीसगढ़ के जम्मो बेरोजगार भाई बहिनी मन के आय।
विधान सभा चुनाव के बेरा आप के जन घोसना पाती के सुरता देवावत मैं आपसे बिनती करत हौं। जम्मो नवजवान बेरोजगार भाई बहिनी मन के संग नियाय करव, ताकि घर घर रोजगार-हर घर रोजगार के आपके संकलप पूरा हो सकय, संगे संग हमर छत्तीसगढ़ के बेरोजगार नवजवान अउ लाखों गरीब परिवार के सुख समरिधि के रस्ता खुलय। छत्तीसगढ़ राज, देस के नक्सा म अपन अलग पहिचान बना सकय।
इही आसा के संग…..

Tags
Back to top button