बिज़नेस

सहारा एंबी वैली को अब तक मिले सिर्फ 2 बिडर्स

मुंबई: लंबे समय से मुश्किलों का सामना कर रहे सहारा ग्रुप के प्रीमियम प्रॉजेक्ट एंबी वैली को खरीदने में केवल 2 बिडर्स ने दिलचस्पी दिखाई है।

सुप्रीम कोर्ट ने एंबी वैली को नीलाम करने का आदेश दिया है। इसका रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़ रुपये रखा गया है।

संभावित बिडर्स के नाम का खुलासा नहीं हुआ है क्योंकि नीलामी की प्रक्रिया सुप्रीम कोर्ट की कड़ी निगरानी में की जा रही है।

सूत्रों ने बताया कि केवल 2 बिडर्स ने अभी तक नीलामी में दिलचस्पी ली है और इसके लिए अपने KYC विवरण जमा किए हैं।

ये 2 बिडर इनवेस्टर्स और कॉर्पोरेट्स के 2 अलग कंसोर्शियम के प्रतिनिधि लग रहे हैं।

रियल एस्टेट कंसल्टेंट्स का कहना है कि देश की किसी भी रियल्टी कंपनी के लिए इतनी बड़ी प्रॉपर्टी खरीदना लगभग असंभव होगा क्योंकि यह सेक्टर नकदी की भारी कमी से जूझ रहा है और बैंक भी इसे लोन देने से हिचकिचा रहे हैं।

महाराष्ट्र के पुणे जिले में लोनावाला के निकट 6,761.6 एकड़ में फैली एंबी सिटी के संभावित बायर चीन या जापान से हो सकते हैं।

हालांकि, बड़ी मात्रा में नकदी रखने वाले देश के कुछ इंडस्ट्रियलिस्ट भी इसे खरीदने की क्षमता रखते हैं लेकिन वे अभी तक एक बिजनस के तौर पर रियल एस्टेट से दूर रहे हैं।

एंबी वैली प्रॉजेक्ट में मॉडर्न विला, गोल्फ कोर्स, हॉस्पिटल, स्कूल और एयरपोर्ट के साथ ही बहुत सी अन्य सुविधाएं मौजूद हैं।

बॉम्बे हाई कोर्ट के ऑफिशियल लिक्विडेटर ने पिछले महीने ऑक्शन नोटिस प्रकाशित कर इंटीग्रेटेड हिल सिटी एंबी वैली और 1,700 एकड़ से अधिक के दो लैंड पार्सल के लिए बिड मांगी थी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button