चुनाव लड़ने वाले 104 आपराधिक उम्मीदवारों में आप के 36 उम्मीदवार शामिल

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 का बिगुल बज चुका है. चुनाव आयोग 8 फरवरी को दिल्ली में चुनाव कराने के लिए तैयार है. नामांकन भरे जा चुके हैं और खास बात है कि इस बार 1993 के बाद से सबसे कम उम्मीदवार चुनावी जंग में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

वहीं इसी बीच चुनाव निगरानी संस्था एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने जानकारी इकठ्ठा की है जिसके मद्देनजर चुनाव लड़ने वाले 104 उम्मीदवारों के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. इनमें आम आदमी पार्टी (आप) के सबसे ज्यादा 36 उम्मीदवार शामिल हैं.

एडीआर की रपट में यह भी बताया गया कि कुल 672 उम्मीदवारों में 133 (20 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने शपथपत्र में अपने खिलाफ आपराधिक मामले का उल्लेख किया है. एडीआर के अनुसार, “2015 दिल्ली विधानसभा चुनाव में, कुल 673 उम्मीदवारों में से 114 (17 प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामले थे.”

रपट के अनुसार, बड़ी पार्टियों में आप के 70 उम्मीदवारों में से 42 (60 प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामले हैं, भाजपा के 67 उम्मीदवारों में से 26 (39 प्रतिशत) और कांग्रेस के 66 उम्मीदवारों में से 18 (27 प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं.

एडीआर ने बताया, “बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 66 उम्मीदवारों में से कुल 12 (18 प्रतिशत) और राकांपा के पांच में से तीन (60 प्रतिशत) ने अपने खिलाफ आपराधिक मामलों का अपने शपथपत्र में उल्लेख किया है.”

एडीआर के अनुसार, “इस सूची में भाजपा दूसरे स्थान पर है, जिसके 67 उम्मीदवारों में से 17 (25 प्रतिशत) पर गंभीर आपराधिक मामले हैं. कांग्रेस के 66 उम्मीदवारों में से 13 (20 प्रतिशत) पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. वहीं बसपा के 66 उम्मीदवारों में से 13 (20 प्रतिशत) के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं.”

Tags
Back to top button