राष्ट्रीय

कश्मीर घाटी में अब्दुल गनी बंदूक लेकर आए -फारूक अब्दुल्ला

बारामुला में पत्रकारों से बातचीत में फारूक अब्दुल्ला ने कहा

बारामुुला:

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूक अब्दुल्ला ने आरोप लगाया है कि कश्मीर घाटी में अब्दुल गनी बंदूक लेकर आए हैं. फारूक अब्दुल्ला ने कहा, ‘जब उन्हें (अब्दुल गनी लोन) पूर्व राज्यपाल जगमोहन ने बर्खास्त किया था तब उसके (सज्जाद लोन) पिता मेरे पास आए थे,

उसने मुझसे कहा मैं पाकिस्तान जा रहा हूं, मैं बंदूक लाने वाला हूं. मैंने उससे कहा, बंदूक मत लाइए, मगर वो लाए. बंदूक नहीं लानी चाहिए थी. इसका जवाब दें वो.’

बारामुला में पत्रकारों से बातचीत में फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि अब्दुल गनी ही घाटी में सबसे पहले बंदूक लेकर आए हैं, जिसका असर आज तक घाटी के लोग झेल रहे हैं. अब यह बेहद खतरनाक हालत में पहुंच चुका है.

फारूक का यह बयान सज्जाद लोन के उस बयान पर आया है, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि नेशनल कांफ्रेंस की वजह से रियासत की विशेष पहचान को नुकसान पहुंचा है.

‘भारत-पाकिस्तान के बीच दोस्ती बढ़े’

जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और लोकसभा सदस्य फारूक अब्दुल्ला ने रविवार को कहा कि जिस दिन भारत और पाकिस्तान में दोस्ती हो जाएगी, कश्मीर का मुद्दा खुद ब खुद सुलझ जाएगा.

जम्मू एवं कश्मीर के बारामुला जिले मे मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “नेशनल कांफ्रेंस ने भारत और पाकिस्तान के बीच हमेशा दोस्ताना संबंध का समर्थन किया है.” उन्होंने कहा जिस दिन दोनों देश सच्चे दोस्त बन जाएंगे, कश्मीर का मामला खुद ब खुद सुलझ जाएगा.

Summary
Review Date
Reviewed Item
कश्मीर घाटी में अब्दुल गनी बंदूक लेकर आए -फारूक अब्दुल्ला
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags